विश्व भ्रमण पर निकले पर्यटकों की सर्वाधिक पसंद की जगह है- भारत

मुंबई, 29 अप्रैल। पीआर न्यूजवायर – एशियानेट।
 यूबीएम इंडिया अ©र ट्रेवल एजेंट एसोसिएशन आफ इंडिया:टीएएआईः ने इंडिया ट्रेवल ट्रेड एक्सपो के आयोजन की घोषणा कर दी है जिसका भारतीय पर्यटन उद्योग जगत में बडी बेसब्री से इंतजार किया जा रहा था। एक्सपो का आयोजन 18 फरवरी से 20 फरवरी 2009 के बीच बंबई इग्जिबिशन सेंटर, मुंबई में होगा।
 विश्व यात्र्ाा अ©र पर्यटन परिषद द्वारा जारी ताजा पर्यटन अनुषंगी लेखा:टीएसएः शोध के अनुसार, भारत के यात्र्ाा अ©र पर्यटन उद्योग ने वर्ष 2008 में अनुमानतः लगभग 100 अरब डालर अर्जित किया। इस आंकडा के आगामी दस वर्षों में अ©सतन 9.4 प्रतिशत वार्षिक की वृध्दिदर से वर्ष 2018 तक करीब 275.5 अरब डालर पहुंच जाने की उम्मीद है।
 हालंाकि, टीएसए शोध के अनुसार, यात्र्ाा अ©र पर्यटन के भारत के कूल घरेलू उत्पाद-जीडीपी में 6.1 प्रतिशत हिस्सेदारी करने की उम्मीद की जाती है। अ©र इस क्षेत्र्ा में 2018 तक करीब 4 करोड लोगों को रोजगार मिलने की उम्मीद है।
 भारत की वित्त्ीय राजधानी होने की वजह से मुंबई भारत के प्रत्येक मार्ग विवरण में शामिल होता है। अच्छी हवा, सडक अ©र रेल संयोग होने से यह महानगर समूचे भारत अ©र विश्व से पर्यटकों को आकर्षित करता है।
 एक विशाल देश के रूप में भारत आकर्षक अ©र विविधतापूर्ण पर्यटन का आनंद प्रदान करता है। इसके प्रत्येक प्रदेश की अनोखी परंपरा, संस्कृति अ©र पाक-प्रणाली या व्यंजन-सूची है।
           इसके अलावा इस देश में बेहतरीन तटीय क्षेत्र्ा, बैकवाटर, आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केन्द्र, प्राचीन स्मारक, विश्व विरासत स्थल, किला, राजमहल, पहाडी स्थल अ©र वन्यजीव क्षेत्र्ा हैं।
                 हैरिटेज पैलेस होटलों के बारे में तो हम सबने सूना है जहां रहने में आपको महाराजा अ©र महारानी होने का अनुभव प्राप्त हो सकता है।
                सही मायने में आरामदायक निवास की इसप्रकार की सुविधाएं सिर्फ भारत में ही उपलब्ध हो सकती हंै अ©र यही सबकुछ विदेशी पर्यटक चाहते भी हैं। छोटे-बडे हर तरह के बजट के लिए उपयुक्त बेहतरीन होटल समूचे देश में उपलब्ध हैं।
                हम अब घरेलू निवास की सुविधा भी प्रदान करने वाले हैं जहां आप एक परिवार के साथ घर के सदस्य के रूप में रहेगे अ©र उनकी आवभगत तथा परांपरागत देशी खानपान का आनंद ले पाएगे।
                भारतीय रेलवे अब विशेष आरामदायक ट्रेनों का भी संचालन करती है, जिसमें से प्रत्येक की विषयवस्तु अनोखी होती है अ©र वे तकरीबन सभी महत्वपूर्ण प्रादेशिक पर्यटन सर्किटों को समेटती हैं।
                सचमुच, भारत में यह सब म©जूद है।
                मार्ट्स एंड स्पेशल इवेंटस के अध्यक्ष अ©र सम्मानीय कोषाध्यक्ष श्री इकबाल मुल्ला ने कहा कि ‘‘भारत में पर्यटन उद्योग को प्रोत्साहित करना अ©र अपने सदस्यों को नेटवर्किंग करने के लिए एक अनूठा मंच प्रदान करके उनके हितों की व्यापक स्तर पर हिफाजत करना, टीएएआई का सपना रहा है।
                उसका मकसद उनके व्यवसाय को अगले स्तर पर पहुंचाने में सहायता करना है। इसे पूरा करना ही आईटीटीई 2010 के आयोजन का भी मकसद है। ’’
                टीएएआई के अध्यक्ष राजी राय ने कहा कि ‘‘ कुल मिलाकर यह हम सबके लिए एक ऐतिहासिक अवसर है, जब नोडेल ट्रेवल एंड टूरिज्म एसोसिएशन:टीएएआईः ने अग्रणी वैश्विक व्यवसाय मीडिया कंपनी: सूबीएमः की साझ्ाीदारी में आज आईटीटीई-2010 को विशालतम, सर्वोत्त्म अ©र अनूठा पर्यटन व्यापार केन्द्र अ©र प्रदर्शनी बनाने की घोषणा की।
              टीएएआई भारत के पर्यटन क्षेत्र्ा की सबसे पुराना संगठन है। भारत में पर्यटन के विकास में इसकी भूमिका प्रशंसनीय रही है। मुंबई में भारतीय ट्रेवल ट्रेड एक्सपो 2010 का आयोजन करके टीएएआई भारत में पर्यटन के विकास को आगे बढा रहा है। खासकर ऐसे समय में जब वैश्विक आर्थिक मंदी ने विश्व में इस क्षेत्र्ा को प्रभावित किया है।
               भारतीय पर्यटन के क्षेत्र्ाीय निदेशक, मुंबई श्रीमती सुजाता ठाकुर ने कहा कि ‘‘यह आयोजन ‘विजिट इंडिया वर्ष-2009’ के तत्काल बाद संपन्न हो रहा है
                 यह आयोजन संभावित पर्यटकों की दिलचस्पी में भ्रमण की प्राथमिकता प्राप्त स्थान के रूप में भारत को बनाए रखने में सहायता करेगा। इस आयोजन के हर प्रकार की सफलता की कामना मुझ्ो है। ’’              
                 यूबीएम इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के प्रबंध निदेशक श्री गांधी ने कहा कि ‘‘यह देश अतिथि-सत्कार के लिए जाना जाता है अ©र खुले मन से मेहमानों का स्वागत करता है। भारत को अपनी समृध्द विरासत अ©र संस्कृति में मेहमानों के साथ साझ्ाीदारी करने में आनंद मिलता है। यह देश ‘अतिथि देवों भव’ के दर्शन में विश्वास करता है।’’
                 आर्थिक स्थिति बेहतरी होने अ©र खर्च करने लायक आमदनी में बढोतरी होने से विदेश भ्रमण करने वाले भारतीय लोगों की संख्या में वृध्दि हुई है। भारतीय पर्यटन अ©र आवभगत उद्योग इस लिहाज से देश की प्रगति को संचालित करने वाले प्रमुख क्षेत्र्ा के रूप में उभरा है।
                 यह विदेशी अ©र देशी दोनों प्रकार के पर्यटकों के व्यावसायिक अ©र अवकाशकालीन भ्रमण को प्रोत्साहित करने में व्यापक रूप से संलग्न है।
                  देश में पर्यटन उद्योग को बढावा देने अ©र उत्प्रेरक के रूप में काम करते हुए यूबीएम इंडिया अ©र टीएएआई  भारत में उभरते उद्योग को प्रोत्साहन देने के मकसद से इस आयोजन को प्रस्तुत कर रहा है।                                इसका मकसद पर्यटन व्यवसाय अ©र भ्रमणकारियों को ऐसा मंच उपलब्ध करना है जो घरेलू अ©र विदेशी पर्यटकों को नए तरह के व्यावसायिक अवसर प्रदान कर सके।
                यूबीएम इंडिया के बारे में:-
                यूबीएम इंडिया यूनाइटेड बिजनेस मीडिया लिमिटेड का हिस्सा है जो अग्रणी वैश्विक बिजनेस मीडिया कंपनी है। हम बाजार को सूचनाएं प्रदान करते हैं अ©र विश्व के बिक्रेता तथा क्रेताओं को विभिन्न आयोजनों में , आनलाइन या प्रिंट में एकजगह एकत्र्ा करते हैं अ©र उन्हें व्यवसाय को सफलतापूर्वक संचालित करने के लिए आवश्यक सूचनाएं प्रदान करते हैं।
                 हम विश्वभर में वाणिज्यिक पेशेवर समुदायों की सहायता करते हैं उनमें चिकित्सकों से लेकर गेम विकासकर्ता तक, पत्र्ाकारों से लेकर आभूषण विक्रेता तक, किसानों से लेकर अ©षध विक्रेता तक शामिल हैं।
                 तीस से अधिक देशों में फैले हमारे 6500 कर्मचारी विशेषज्ञ दलों में संगठित हैं जो इन समुदायों की सेवा करते हैं, उन्हें अपना व्यवसाय संचालित करने अ©र उनका विपणन कारगर तथा कुशल ढंग से करने में सहायता करते हैं।                           विश्वस्तर पर यूबीएम की ओर से 300 आयोजन आयोजित किए जाते हैं, 200 पत्र्ािकाएं प्रकाशित की जाती है अ©र 200 वेबसाइट संचालित किए जाते हैं।              
                टीएएआई के बारे मेंः-
                ट्रेवल एजेंट्स एसोसिएशन आफ इंडिया का गठन 1951 के आखिर में 12 अग्रणी पर्यटन एजेंटों द्वारा किया गया जिन्होंने महसूस किया कि भारत में पर्यटन उद्योग को संगठित करने का समय आ गया है।
                इसका प्राथमिक मकसद इस उद्योग में लगे लोगों के हितों की सुरक्षा करना, इसकी सुव्यवस्थित उन्नति अ©र विकास को प्रोत्साहित करना अ©र भ्रमणकारी लोगों के अधिकारों की सुरक्षा करना था।
                 टीएएआई अपने देश में भ्रमण संबंधी गतिविधियों से जुडी सभी पेशेवर, नैतिक अ©र गतिशील मामलों का प्रतिनिधित्व करती है।
                 इसे भारत के भ्रमण अ©र पर्यटन उद्योग की आवाज के रूप में सम्मानित किया जाता है। इसकी सदस्यता आकडों में 2300 से अधिक सक्रिय, संबध्द अ©र सहयोगी सदस्यों की सूची है जिसमें आईएटीए की मान्यताप्राप्त पर्यटन एजेंसियां, एयरलाइन्स व सामान्य बिक्री एजेंसियां अ©र होटल व यात्र्ाा संचालक भी शामिल है।                       टीएएआई भारत का सबसे बडा ट्रेवल एसोसिएशन है।  इस आयोजन के बारे में अधिक जानकारी के लिए संपर्क करेंः-
                  संपर्कः-
                  श्री तरुण मारवाह
                  फोन: 91:0ः 22 – 6612 – 2685
                       या ईमेल करें।
                  ईमेल: तरुण:एैटः यूबीइंडिया . काम
                  स्रोत:-
                  यूबीएम इंडिया प्राइवेट लिमिटेड
एशियानेट: अमरनाथ