स्चनीडर क्रेयूजनाक के लेंस आकाशीय टेलिस्कोप की आखिरी सेवा मीशन की निगरानी करेगे।

बैड क्रेयूजनाक, 26 मई। पीआर न्यूजवायर – एशियानेट।
 आकशीय टेलिस्कोप हंबल की मरम्मत करने के लिए नासा का आखिरी सेवा मीशन जिसे एसटीएस-125 कहा गया है, इस साल 11 मई को आरंभ हुआ।
 सात अंतरीक्ष यात्र्ाियों के चालक दल ने छह गाइरोस्कोप, कुछ बैटरी अ©र एक सेंसर को बदल दिया जिनका इस्तेमाल किसी टेलिस्कोप को दिशानिर्देश देने के लिए किया जाता है।
 अंतरीक्ष यान अंटलांटा पर स्थापित स्चनीडर क्रेयूजनाक के बने तीन लेंसों- रेंडेजवोस ने यान अ©र टेलिस्कोप के बीच नजर गडाए रखा अ©र मरम्मत के काम की निगरानी की। अटलांटिस अपने आधार स्थल पर 24 मई को सुरक्षित वापस ल©ट आया।
 फोटोः एचटीटीपी: डबलूडब्लूडब्लू . न्यूजकाम . काम , सीजीआई – बीआईएन , पीआरएनएच , 20090526 , 348002
 स्चनीडर ग्रूप के सीईओ डा. जोसेफ स्ट©ब ने कहा कि ‘‘नासा ने स्चनीडर आप्टिक्स यूएसए के माध्यम से स्चनीडर – क्रेयूजनाक लेंसेस से एक मानक दूरी से अंतरीक्ष अभियान के लिए अनुरोध किया था। नासा के अनुसार, स्चनीडर लेंसों की गुणवत्त अ©र विस्तार देने की क्षमता अंतरीक्ष अभियानों के लिए निर्णायक हैं।’’
 अंतरीकक्ष संगठन के विशेषज्ञों ने इस अभियान के लिए कंपैक्ट सी-माउंट मानक लेंसों- सेनोप्लान अ©र सिनेगोन का चुनाव किया। यान के पिछवाडे में संस्थापित तीन लेंसों ने यान के टेलिस्कोप के उपर जाने, खुलने अ©र फिर विदा होने की घटनाओं के हाई रिजोल्यूशन विडियो तस्वीरों भेजी। स्चनीडर लेंस कठिनाई भरी परिस्थितियों के साथ तालमेल बिठाने में कामयाब रहे, खासकर आरंभ करते समय उनमें किसी तरह के सुधार करने की जरूरत नहीं हुई।
  अंतरीक्ष अभियान में व्यवहृत तीन मानक कंपैक्ट लेंसों का इस्तेमाल आमत©र पर 3 डी अनुमापन के लिए रोबोटों अ©र मोटर यानों में होता है।
 
               स्चनीडर-क्रेयूजनाक के अ©द्योगिक आप्टिक्स विक्रय के प्रमुख थामस स्चीच ने कहा कि‘‘ हम खासत©र से इसे लेकर उत्साहित हैं कि हमारे एक मानक लेंस का इस्तेमाल इस अभियान में किया गया। इससे दिखाता है कि हमारे उत्पादन कितने अनुकूल अ©र विश्वसनीय हैं। ’’
               हंबल अंतरीक्ष टेलिस्कोप तक का आखिरी अभियान इसे कम से कम 2014 तक कार्यरत रहने में समर्थ बनाएगा। अभियान के बारे में तस्वीरें अ©र अधिक जानकारी तथा टेलिस्कोप के कार्यों के बारे में जानकारी नासा वेबसाइट से प्राप्त किए जा सकते हैं।
              एचटीटीपी: डबलूडब्लूडब्लू . नासा . जीओवी , मीशन अंडरस्कोर पेजेज , हंबल
              स्चनीडर ग्रूप के बारे मेंः-
              स्चनीडर ग्रूप उच्च प्रदर्शनक्षमता वाले फोटोग्राफिक लेसों, सिनेमा प्रोजेक्शन लेंसों के साथ साथ अ©द्योगिक आप्टिक्स अ©र प्रेसिसन मशीनों का विकास करने अ©र निर्माण करने का विशेषज्ञ है। इस समूह में जोस. स्चनीडर आप्टिक्स वेर्क शामिल है। इसकी स्थापना बैड क्रेयूजनाक में 1913 में हुई।
           इसकी सहयोगी कंपनियों- पेंटपकोनःड्रेस्डेनः, बी प्लस डब्लू फिल्टरफैब्रिकःआईएससीओःःगोटिगेनः, प्राक्टिकाःलंदनः,स्चनीडर आप्टिक्सःन्यूयार्क, लास एंजेल्सः, स्चनीडर बांडोःसियोलः, स्चनीडर एशिया पेसिफिकःहंागकांगः स्चनीडर आप्टिकल टेक्नोलाजीःशेनझ्ोनः शामिल हैं। कंपनी का मुख्य ब्रांड स्चनीडर-क्रेयूजनाक हैं।
           विश्वभर में इसके करीब 650 कर्मचारी है जिनमें से 345 जर्मनी स्थित मुख्यालय में हैं। अनेक वर्षों से यह समूह उच्च प्रदर्शनक्षमता के लेंसों में बाजार का अगुवा है।
          संपर्कः
          जोस. स्चनीडर आप्टिक्स वेर्क
          वोल्फगांग बर्गर
          रिंगस्ट्रेस 132
          55543 बैड क्रेयूजनाक
          फोनः 49 – 671 – 601 – 287
          फैक्सः 49 – 671 – 601 – 289
          बेर्गेरडब्लूःएैटःस्चनीडरक्रेयूजनाक . काम
          एचटीटीपी: डब्लूडब्लूडब्लू . स्चनीडरक्रेयूजनाक . काम
          फिशरमेन कम्यूनिकेशंस जीएमबीएच
          डा. हेइको रीस्च
          कीसेस्ट्र्रेस 61
          60320 फ्रैंकफुर्ट एएम मेन
          फोनः 49 – 69 – 210860 – 0
          फैक्सः 49 – 69 – 210860 – 21
          एचरेइस्चःएैटःफिशरमेन – काम . डीई
          स्रोतः
          स्चनीडर – क्रेयूजनाक
एशियानेट: अमरनाथ