श्वेतपत्र ने र्सिगापुर में राजनीतिक आजादी के दमन की निंदा की।

 
 
07/11/2009 5:05:39:850PM
 
लंदन, 4 नवंबर। पीआर न्वूजवायरएशियानेट।
एशियाप्रशांंत आर्थिक सहयोग सम्मेलन :एपीईसी: के पहले जिसे सिंगापुर में 12 से 14 नवंबर के बीच होना है, एमस्टर्डम एंड पेरोफ ने आज सिगापुर में राजनीतिक स्वतंत्रता में कटौती की निंदा करते हुए एक श्वेतपत्र प्रकाशित किया।
इस श्वेतपत्र में सिंगापुर में राजनीतिक स्वतंत्रता के दमन के विवरण एकत्र किए गए हैं और इसका उल्लेख किया गया है कि पिपुल्स एक्शन पार्टी: पीएपी: के नेतृत्व के अंतर्गत सिंगापुर की सरकार ने किसतरह से समूचे सरकारी तंत्र पर दबदबा कायम कर उसे अपने निजी स्वार्थ को साधने का उपकरण बना लिया है।
इसका परिणाम हुआ है कि आमलोगों को उनके बुनियादी लोकतांत्रिक अधिकारों और स्वतंत्रता से वंचित किया जा रहा है।
एमस्टर्डम एंड पेरोफ एक अंतराष्ट्रीय वैधानिक संस्था है जो सिंगापुर की एक सर्वाधिक विपक्षी पार्टीसिंगापुर डिमोक्रेटिक पार्टी :एसडीपी: के नेता डॉ.ची सून जुआन की प्रतिनिधि के रूप में कार्यरत है। डा. ची सून जुआन के मामले का विस्तार से परीक्षण किया गया है।
सिंगापुर डिमोक्रेटिक पार्टी के नेता के रूप में डा. ची के खिलाफ बारंबार मुकदमें दर्ज किए हैं, विभिन्न आरोप लगाए है और कैद किया है। यह सब तब से ही चल रहा है जब उन्होंने राजनीतिक विरोध करने का पहला कार्य किया। उन्हें अंतराष्ट्रीय स्तर पर राजनीतिक स्वतंत्रता के प्रतिरक्षक के रूप में जाना जाता है और पार्लियामेंटेरीयन्स फार ग्लोबल एक्शन की ओर से लोकतंत्र के संरक्षक पुरस्कार से नवाजा गया है।
::
एचटीटीपी : डब्लूडब्लूडब्लू . पीजीएक्शन . ओआरजी :: श्वेतपत्र में दर्ज किया गया है कि सिंगापुर के 1959 में अांतरिक स्वशासन प्राप्त करने के समय से ही इसपर पीएपी का शासन जारी है जिसने तब से बनी सभी संसदों में अपना वर्चस्व कायम करने में सफलता प्राप्त की है।
सरकार ने सिंगापुर के संविधान द्वारा गारंटीकृत अधिकारों को गैरसंवैधानिक घरेलू कानूनों के माध्यम से अवरूध्द करके राज्य के राजनीतिक मशीनरी पर एकतरह से एकाधिकार को सुदृढ कर लिया है। आपराधिक कार्य में सहयोग देने वाली न्यायपालिका के सहयोग से मीडिया को सरकारी मिल्कियत के माध्यम से मुकदर्शक बना दिया गया है और अवमानना के मामले चलाने की यदाकदा दी जाने वाली धमकियों और मुकदमेबाजी में उलझाए जाने के खतरों ने राजनीतिक स्वतंत्रता के दमन के अभूतपूर्व माहौल का निर्माण किया है।
वैधानिक जगत में हुआ ताजा विकास अप्रैल 2009 में सार्वजनिक व्यवस्था कानून के बनने से राजनीतिक विपक्ष पर सत्ताधारी पीएपी की बढत पहले से कहीं अधिक मजबूत हो गई है।
श्वेतपत्र ने विदेशी सरकारों, गैरसरकारी संगठनों और मीडिया से अनुरोध किया है कि वे सिंगापुर सरकार पर इसके लिए दबाव डाले कि वह अपनी मनमानी करने के बजाए राजनीतिक विपक्ष की मांगों के अनुसार उपयुक्त कार्रवाई करे। साथ ही निम्नलिखित काम भी करे।
सिंगापुर में 12 से 14 नवंबर के बीच होने वाले सम्मेलन में हिस्सा लेने वाले एपीईसी नेतागण सिंगापुर के नागरिक समाज के प्रतिनिधियों से मुलाकात करें जिनमें एसडीपी के नेता डा. ची भी शामिल हों।
एशियन एक सक्षम मानव अधिकार आयोग की स्थापना करे।
डॉ.ची और राजनीतिक विपक्ष के अन्य लोगों के खिलाफ लगे आरोपों को खारिज किया जाए।
सिंगापुर में एक स्वतंत्र और निष्पक्ष न्यायपालिका की स्थापना के लिए अभियान चलाया जाए।
श्वेतपत्र निम्नलिखित वेबसाइट पर उपलब्ध है:- एचटीटीपी : डब्लूडब्लूडब्लू . रोबर्टएमस्टर्डम .