जी-20 इनिशियेटिव ने यूरोपीयन फंड आफ साउथइस्ट यूरोप के एसएमई फाइनेंस के लिए तैयार पीपीपी माडल को दुनिया के सर्वश्रेष्ठ में से एक के रूप में सम्मानित क

जी-20 इनिशियेटिव ने यूरोपीयन फंड आफ साउथइस्ट यूरोप के एसएमई फाइनेंस के लिए तैयार पीपीपी माडल को दुनिया के सर्वश्रेष्ठ में से एक के रूप में सम्मानित क
 
02/11/2010 10:20:05:283PM
 
फ्रैंकफर्ट, 2 नवम्बर:पीआरन्यूजवायरएशियानेट:- ‘‘जी-20 एसएमई फाइनेंस चैलेंज’’ में यूरोपियन फंड आफ साउथइस्ट यूरोप:इएफएसई: को छोटे और मध्यम उद्यमों :एसएमइस: के लिए वित्तपोषण करने वाली दुनिया के 14 बेहतरीन पब्लिकप्राइवेट पाटर्नरशिप :पीपीपी: माडल्स के रूप में चयनित किया गया 75 देशों के 345 प्रतिस्पर्धियों ने इस चुनौती में भाग लिया इएफएसई विजेताओं के बीच एकमात्र जर्मन प्रतिद्वंदी था प्रतियोगिता को पहल जी-20 के औद्योगिक और उभर रही अर्थव्यवस्था के राजनीतिक नेताओं द्वारा 2009 वाषिर्क शिखर सम्मेलन में पिटस्बर्ग में लांच किया गया था एसएमइस के निजी वित्त का ताला खोलने के लिए ताकि उत्प्रेरक और अभिनव उपायों की पहचान की जा सके
एसएमइस अर्थिक विकास में बड़ी भूमिका अदा करते हैं, खासकर उभरते हुई अर्थव्यवस्था में एसएमइस रोजगार और रोजगार सृजन के लिए सबसे बड़ा योगदान कर रहें हैं, और दुनिया भर के सकल घरेलू उत्पाद को शेयर करने में अहम हैं
विजेताओं को अगले जी-20 शिखर सम्मेलन में आमंत्रित किया जायेगा जो साउथ कोरिया के सिओल में होगा, जहां पुरस्कार से आधिकारिक रूप से सम्मानित किया जायेगा
इएफएसईका ट्रैक रिकार्ड 2005 में केएफडब्ल्यू एन्टविकलंगस्बैंकजो कि जर्मन डेव्लपमेंट बैंक हैं ने इसकी शुरुआत की, जिसको वित्तीय सहायता यूरोपीय आयोग और जर्मन फेडरल मिनिस्ट्री फार इकोनामिक कोओपरेशन एण्ड डिव्लेपमेंट :बीएमजेड: द्वारा मिलती है, इएफएसई को सार्वजनिक दाताओं, अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय संस्थाओं और निजी निवेशकों से :30:09:2010 के अनुसार:760 मिलियन यूरो की पूंजी प्रतिबद्धतायें हैं मोशन जीएमबीएच, जो कि निजी कोषीय प्रबंधन कम्पनी है जो विकास वित्त में पारंगत मानी जाती है द्वारा इसका प्रबंधन होता है, साथ ही ओपेनहेन एसेट मैनेजमेंट सर्विसेज एस..आर.एल द्वारा भी बोस्निया एण्ड हर्जेगोविना, सर्बिया, कोसोवो और मान्टेनेगरो में 2005 में शुरू हुये, इएफएसई अब सूक्ष्म कारोबारों और एसएमइस के लिए स्थानीय वित्तीय संस्थानों के जरिए निम्नलिखित दस देशों के लिए दीर्घकालीन फंडिंग भी करता है : अल्बानिया, अर्मेनिया, अर्जबेजान, बुल्गारिया, एफवाईआर मेसेडोनिया, जोर्जिया, माल्दोवा, रोमानिया, बेलारूस और यूक्रेन
इएफएसई का निवेश पोर्टफोलियो इसके शुरू होने के समय से निरंतर बढ़ा है, निजी पूंजी की हिस्सेदारी ने उसके वर्तमान स्तर को लगातार बढ़ाया है जो की लगभग 68 प्रतिशत है आज तक, इएफएसई ने 60 से ज्यादा स्थानीय वित्तीय संस्थानों : बैंकों और सूक्ष्म वित्तीय संस्थानों : को लांगटर्म फंडिंग का योगदान दिया है यह फंड एसएमईस को , खासकर छोटे उद्यमों को लोन देने के लिए प्रयोग में लाया गया है डा क्लास ग्लौबिट, इएफएसई के बोर्ड आफ डायरेक्टर्स के चेयरमैन ने समझाया,:‘‘इएफएसई केएफडब्ल्यूू द्वारा प्रशासित चार मल्टीडोनर क्रेडिट प्रोग्रामों में से विकसित किया गया जिसने छोटे कारोबारों के जरिए बाल्कान के पुनर्निमाण में सहयोग दिया इएफएसई का पीपीपी दृष्टिकोण वैश्विक वित्तीय संकट के दौरान काफी सफल रहा हमें हर्ष है कि जी-20 ने इएफएसई को एसएमईस के लिए अभिनव वित्तपोषण समाधान खोजने वाले के रूप में जगह दी ’’ 2005 में फंड की शुरुआत से, कोष के जरिए 247,000 लोन की मदद दी गई, जिसका कुल योग 1.3 बिलियन यूरो से कुछ ही कम होगा। फलस्वरूप, 215,000 के करीब नये रोजगारों का सृजन किया गया है
केएफडब्ल्यू एन्टविकलंगस्बैंक के काम्पिटेंस सेंटर फार फाइनेंशियल सेक्टर डेव्लेपमेंट की अध्यक्ष मोनिका बेक ने कहा कि,‘‘इएफएसई की प्रभावशाली वृद्धि बताती है कि कैसे एक तरफ सार्वजनिक और निजी फंडों का संयोग सफल होता है वहीं दूसरी ओर प्राइवेटसेक्टर फंड मैनेजमेंट कम्पनी द्वारा प्रशासित होता है हम इसलिए इएफएसई को अन्य परिक्षेत्रों और क्षेत्रों में आगे के लिए ब्लूप्रिंट की तरह देखते हैं ।’’ उन्होंने आगे कहा :‘‘हमें उम्मीद है कि यह सम्मान हमें अतिरिक्त सार्वजनिक पूंजी को बढ़ाने में सहयोग करेगा, दोनांे इएफएसई और इसकी तरह के ही अन्य संरचित विकास कोषों को यह हमें ज्यादा से ज्यादा निजी निवेशकों तक पहुंचने में सक्षम बनायेगा, जिससे इस वित्तपोषण दृष्टिकोण के लिए सार्वजनिक अपील बढ़ेगी और इसकी पहुंच और प्रभाव में भी बढ़ोतरी होगी इएफएसई के साथ, हम वर्तमान में स्थानीयमुद्रा लेंडिंग के विस्तार पर काम कर रहें हैं और खासकर खुश होंगे अगर हम जी-20 फंडिंग के साथ वित्तपोषण आधार को बढ़ा सके ’’ इएफएसईभविष्य की योजना वर्तमान में, इएफएसई पाटर्नर संस्थानों द्वारा लांगटर्म लोकल करेंसी लोन ग्रांट करने के लिए निवेश विंडो शुरू करने की यांजना बना रहा है यह दर्शाता है कि इएफसीई देशों को सिर्फ लांगटर्म लोन्स की जरूरत है बल्कि, खासतौर पर, स्थानीय मुद्रा में ऋणों की जो कि संभावित मुद्रा जोखिम से अंतत उधारकर्ता की रक्षा करेगा 2014 तक, इएफएसई की योजना 400,000 सूक्ष्म और एसएमईस को अपने पाटर्नर फाइनेंशियल इंस्टीटयूटस के जरिए 14 देशों में वित्तीय सहायता देने की है आगे चलकर, लोकल करेंसी इंवेस्टमेंट विंडो से 10,000 कारोबारों को फायदा होगा जिसका कुल ऋण योग दो बिलियन यूरो का होगा, जिसकी मंशा आगे 2014 तक 400,000 रोजगार सृजित करने की है इसके साथ, इसकी मंशा अतिरिक्त सार्वजनिक और निजी निवेशकों को फंड के लिए आकषिर्त कर निवेशक आधार का विस्तार करना है
यूरोपियन फंड आफ साउथइस्ट यूरोप:इएफएसई: के बारे में इएफएसई का लक्ष्य दक्षिणपूर्व यूरोप और उसके पड़ोसी क्षेत्रों में आर्थिक विकास की है इन क्षेत्रों में, इएफएसई योग्य स्थानीय वित्तीय संस्थाओं के लिए लंबी अवधि की फंडिंग प्रदान करता है ताकि बिजनेस लोन का विस्तार हो छोटे और मध्यमआकार के उद्यमों :एसएमईस: के लिए साथ ही लोइंकम प्राइवेट हाउसहोल्डस के लिए हाउसिंग लोन का भी केएफडब्ल्यू सार्वजनिकनिजी पाटर्नरशिप माडल पर आधारित फंड का सर्जक है ।जिसकी पूंजी स्टाक सार्वजनिक दाताओं और अंतर्राष्ट्रीय वित्तिय संस्थाओं के साथ ही संस्थागत निजी निवेशकों द्वारा प्रदान की जाती है इएफएसई के निवेशकों और शेयरधारकों में यूरोपीय आयोग, जर्मन फेडरल मिनिस्ट्री फार इकोनामिक कोओपरेशन एण्ड डिव्लेपमेंट :बीएमजेड:, आस्ट्रिया, स्विजरलैंड, डेनमार्क और अल्बानिया की सरकारें, केएफडब्ल्यू,आइएफसी, एफएमओ :निदरलैण्डस डिव्लपमेंट फाइनेंस कम्पनी : यूरोपियन बैंक फार रिकंस्ट्रक्शन एण्ड डिव्लपमेंट :इबीआरडी:, यूरोीियन इंवेस्टमेंट बैंक:ईआईबी:,ओइस्टरीशस एन्टविकलंग्सबैंक:ओइईबी:, सैल.ओपेनहायम और डायश बैंक शामिल हैं
,
फ्रैंकफर्ट फंड को निजी तौर पर ओपेनहायम एसेट मैनेजमेंट सर्विसेज द्वारा प्रशासित किया जाता है और मोशन जीएमबीएच में बतौर वित्त कोष प्रबंधक वित्तीय पोषण देता है और क्रमश फंड सलाहकार के रूप में भी काम करता है
ज्यादा जानकारी के लिए कृपया जायें
 


http://www.efse.lu


मिडिया सम्पर्क समीर दिइक


 
 
 

मेल:press@efse.lu दूरभाष :49:0:69-9778-7650-26स्रोत:यूरोपियन फंड फार दक्षिणपूर्व यूरोप :इएफएसई:
पीआरन्यूजवायर:एशियानेट:किरण अमर पीडब्ल्यूआर13 11021402 दि