इंटरनेट सोसाइटी और डिजिटल इंपावरमेंट फाउंडेशन ने अगले खरब को आनलाइन करने की पहलकदमी आरंभ की ।

 
 
04/11/2010 3:50:34:600PM
 

दिल्ली, भारत 1 नवंबर,2010 पीआर न्यूजवायरएशियानेट
इंटरनेट सोसाइटी ने डिजिटल इंपावरमेंट फाउंडेशन :डीईएफ: की साझीदारी में आज एक संयुक्त पहलकदमीसमुदायों का वायरलेस संयोगिकता के माध्यम से सशक्तिकरण’ की घोषणा की जिसकी डिजायन भारत के ग्रामीण समुदायों को संयोगित करने के लिए तैयार किया गया है
इस कार्यक्रम में वायरलेस संयोगिकता कार्यशालाएं और चार राज्यों में वायरलेस मेश नेटवर्कों का संस्थापन शामिल है कार्यक्रम का उदेश्य भारत के ग्रामीण इलाकों में इंटरनेट की पहुंच का सामर्थ प्रदान कर डिजिटल बंटवारे को घटाना है
इसके अतिरिक्त इसकी डिजायन ग्रामीण इलाकों पर आधारित विषयवस्तु की रचना करना, उत्पादन करना और सेवा प्रदान करने को प्रात्साहित करने के लिहाज से की गई है यह लिंगुस्टिक और सांस्कृतिक विविधता को बढाएगा, ग्रामीण अर्थव्यवस्था के निर्माण में सहायता करेगा और अगले खरब लोगों केा आनलाइन बनाएगा
स्थिर और मोबाइल फोनों के 70 करोड ग्राहकों के होने के बावजूद भारत के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में उल्लेखनीय फर्क बना हुआ है इंटरनेट संपन्न और विपन्न के बीच के फर्क को अधिक बडा बनाता है
इसका कारण कुछ हद तक परंपरागत संचार अधिसंरचनाओं के संस्थापन का ग्राहक और सेवा प्रदाता दोनों के लिए आर्थिक रूप से व्यावहारिक नहीं होना है हालांकि वायरलेस तकनीकों में गांवों के आखिरी घर तक किफायती संयोगिकता प्रदान करने की काफी क्षमता है
इंटरनेट सोसाइटी के मुख्य कार्यसंचालन अधिकारी जोन मैकनेरनेय ने कहा कि ‘‘इंटरनेट सोसाइटी का गठन इस विश्वास पर आधारित है कि इंटरनेट तक पहुंच नवोन्मेषों के लिए प्रेरित करता है, शिक्षा और आर्थिक संपन्नता के अवसर तैयार करता है ।’’ ‘‘इस पहलकदमी के माध्यम से उन गांवों में भी जहां घरों को जोडने वाली सडकें भी नहीं होती इंटरनेट से संयोगिकता प्राप्त हो सकेगी इंटरनेट सोसाइटी का तरीका अधिसंरचनाओं का संस्थापन और उसका इस्तेमाल करने के बारे में समुदाय के प्रशिक्षण को साथ साथ करने का है ’’ इस पहलकदमी के अंतर्गत समूचे भारत के ग्रामीण इलाकों में पांच मेश वायरलेस आधारिक सामुदायिक नेटवर्को का संस्थापन किया जाएगा जिसका आरंभ चंदेरी :मध्यप्रदेश: से होगा फिर आगामी बारह महीनों में गारो पहडियों के तुरा:मेघालय:, अजमेर के तिलोना:राजस्थान:, कोल्हापुर:महाराष्ट्र: और टेहरी: उत्तराखंड में उसे स्थापित किया जाएगा
वायरलेस मेश नेटवर्क इस पर्यावरण में सर्वाधिक उपयुक्त होंगे क्योंकि नेटवर्क के प्रत्येक नोड का अवयवीकरण इसतरह किया गया होता है जो मेश व्यवस्था के अन्य नजदीकी नोड से संयोगित होती है
इससे नेटवर्कों के लिए उच्चतर अपटाइम की सुविधा मिलती है क्योंकि नेटवर्क ट्रैफिक को स्वचालित ढंग से गैर क्रियाशील नोडस पर भेज दिया जाता है यह व्यवस्था नेटवर्कों को विस्तारित पहुंच भी प्रदान करती है
समुदायों को ‘‘प्रशिक्षकों को प्रशिक्षण’’कार्यक्रम की संरचनागत व्यवस्था से सशक्त बनाया जाता है जो भागीदारों को वह सब जानकारी प्रदान करते हैं जिसकी आवश्यकता उन्हें वायरलेस नेटवकोर्ं की डिजायन करने,संस्थापन करने और संचालन करने के लिए होती है साथ ही समुदाय के लोगों को संस्थापन और संचालन के बारे में प्रशिक्षण देता है
भारत सरकार के वाणिज्य और उद्योग राज्यमंत्री और मण्यप्रदेश के गुना से संसद सदस्य ज्योतिरादित्व सिंधिया ने कहा कि ‘‘भारत के प्रत्येक नागरिक की बुनियादी आवश्यकताओं में इंटरनेट संयोगिकता है उन्होंने यह बात इस विकासात्मक पहलकदमी के बारे में बताए जाने पर कही
‘‘
चंदेरी में वायरलेस इंटरनेट अधिसंरचना की स्थापना एक बडा कदम है और मुझे इस क्षेत्र के संसद सदस्य के रूप में टिकाउपन की ओर इस पहलकदमी में हर प्रकार की सहायता करके प्रसन्नता होगी ।’’ इंटरनेट सोसाइटी एक अंतर्राष्ट्रीय संगठन है जो समूचे विश्व के लोगों के फायदे के लिए इंटरनेट के उपयोग और खुला संस्थापन, मूल्यांकर को सुनिश्चित करने के प्रति समर्पित है
डीईएफ आईसीटी के डोमेन के अंतर्गत और डिजिटल विषयवस्तु सामथ्र्य को जमीनी स्तर पर पहुंचाने का काम करता है डीईएफ और इंटरनेट सोसाइटी ने एनआईएक्सआई: नेशनल इंटरनेट एक्सचेंज आफ इंडिया के सहयोग से भारत में पंचायत स्तर पर भी काम करता है ताकि सुशासन के आखिरी स्तर तक डिजिटल समावेशीकरण हो सके जिसस्तर पर नागरिकों का सरकार के साथ प्रत्यक्ष जुडाव होता है
इंटरनेट सोसाइटी के बारे में :- इंटरनेट सोसाइटी एक गैर मुनाफाखोर संगठन है जिसकी स्थापना 1992 में इंटरनेट से संबंधित मानदंडों, शिक्षा और नीतियों के मामले में नेतृत्व प्रदान करने के लिए हुई थी वाशिंगटन,डीसी और जेनेवा,स्वीटजरलैंउ में स्थित कार्यालयों के साथ यह इंटरनेट के खूले विकास, मूल्यांकन और समूचे विश्व के लोगों के फायदे के लिए इंटरनेट के उपयोग के प्रति समर्पित है
अधिक जानकारी निम्नलिखित वेबसाइट पर उपलब्ध है :-
http://www.isoc.org

      डीईएफ वेबसाइट:-  http://www.defindia.net
स्रोत:- इंटरनेट सोसाइटी

संपर्क :- ओसामा मंजर , डीईएफ की ओर से ओसामा :एैट: डीईएफइंडिया डाट नेट या अन्य चैंबर्स 1-224-321-0378 चैंबर्स :एैट: आईएसओसी डाट ओआरजी या, रजनीश डी. सिंह सिंह :एैट: आईएसओसी डाट ओआरजी दोनों इंटरनेट सोसाइटी की ओर से