वर्ल्ड फ्री जोन सम्मेलन में मुक्त क्षेत्रों के बीच सहक्रियाशीलता बढ़ाने की अपील की गई

 
 
10/11/2010 9:36:35:713AM
 
वर्ल्ड फ्री जोन सम्मेलन में मुक्त क्षेत्रों के बीच सहक्रियाशीलता बढ़ाने की अपील की गई
रास अल खमाह, यूएई, 3 नवंबर, पीआरन्यूजवायर- एशियानेट ।
– सुप्रीम काउंसिल सदस्य और रास अल खमाह के शासक माननीय शेख सउद बिन सगर अल कासिमी ने इस प्रतिष्ठित सम्मेलन का उद्घाटन किया दो दिवसीय वर्ल्ड फ्री जोन सम्मेलन 2010 आज विश्व के मुक्त क्षेत्रों के बीच परस्पर सहयोग बढ़ाने तथा अपने ग्राहकों को अद्वितीय लाभ एवं खुद लाभकारी बने रहने के लिए एक जोरदार अपील के साथ रास अल खमाह का अल हमारा कन्वेंशन सेंटर खोला गया ।
  (Photo: http://www.newscom.com/cgi-bin/prnh/20101102/418294 )
: आरएके एफटीजेड : की मेजबानी में इस औद्योगिक कार्यक्रम का दसवां संस्करण का उद्घाटन रास अल खमाह के सुप्रीम काउंसिल सदस्य और शासक माननीय शेख सउद बिन सगर अल कासिमी ने अमीरात के शासक बनने के बाद अपने पहले आधिकारिक कार्यक्रम के तौर पर किया ।
वर्ल्ड फ्री जोन कन्वेंशन 2010 की मेजबानी 200 से अधिक अंतरराष्ट्रीय और क्षेत्रीय प्रतिनिधियों के बीच किया जाएगा जो मौजूदा आर्थिक माहौल में वैश्विक स्तर पर मुक्त क्षेत्रों के लिए अवसरों की समीक्षा करेंगे ।
माननीय शेख सउद ने कहा : ‘‘हम वर्ल्ड फ्री जोन कन्वेंशन जैसे कार्यक्रमों का स्वागत करते हैं जो रास अल खमाह की प्रोफाइल को एक अंतरराष्ट्रीय स्तर पर एक महत्वपूर्ण मुक्त क्षेत्र प्रवर्तक के तौर पर रेखांकित करते हैं । यह सम्मेलन एक ऐसे महत्वपूर्ण समय में किया जा रहा है जब हमारी आर्थिक नीतियां सफलता दिलाने की शुरुआत कर रही है और पूरी दुनिया की प्रमुख कंपनियों के साथ रणनीतिक भागीदारी के लिए आगे बढ़ रही है ।’’ माननीय शेख सउद के संरक्षण में आयोजित इस प्रतिष्ठित दो दिवसीय सम्मेलन और प्रदर्शनी में संयुक्त अरब अमीरात की विदेश व्यापार मंत्री माननीया शेखा लुबना बिंट खालिद बिन सुल्तान अल कासिमी का प्रमुख संबोधन शामिल है । इस सम्मेलन की मेजबानी आरएके एफटीजेड के चेयरमैन माननीय शेख फैसल बिन सगर अल कासिम और मुख्य कार्यकारी अधिकारी ओसामा अल ओमरी करेंगे जबकि इसमें वर्ल्ड फ्री जोन कन्वेंशन के चेयरमैन और यूरोपियन पालिसी फोरम के अध्यक्ष ग्राहम मैदर तथा लंदन एंड ब्रुसेल्स एवं अन्य अंतरराष्ट्रीय हस्तियां शिरकत करेंगी ।
ओसामा अल ओमरी ने मुक्त क्षेत्रों के लिए अपने समकक्षों से अपील करते हुए अन्य देशों में अपने-अपने समकक्षों के साथ संबंध मजबूत करने के सफलता मंत्र पर चर्चा की ताकि बाजार हिस्सेदारी का विस्तार और विकास सुनिश्चित किया जा सके ।
अल ओमारी ने कहा, ‘‘सुपरा-नेशनल संगठनों में विश्व व्यापार संगठन, यूनिडो, यूनिकटैड, ओईसीडी तथा यूरोपियन कमीशन जैसे कई नीति निर्माता सतही दलील देते हैं कि मुक्त क्षेत्रों के लिए जब टैरिफ ही नहीं रहेगा तो मुक्त क्षेत्रों के लिए आर्थिक लाभ भी समाप्त हो जाएंगे और मुक्त क्षेत्रों का अस्तित्व मिट जाएगा । वे इतनी सी बात अभी तक नहीं समझ रहे हैं कि मुक्त क्षेत्रों ने खुद को विश्व में विदेशी निवेश आकषिर्त करने के लिए अग्रणी सेवा केंद्रों में परिवर्तित किया है और इसकी इन्हें सख्त जरूरत है ।’’ अपने प्रमुख संबोधन में शेखा लुबना ने संयुक्त अरब अमीरात में संचालित हो रहे 36 मुक्त क्षेत्रों से अर्थव्यवस्था में महत्वपूर्ण योगदान का जिक्र किया । उन्होंने कहा, ‘‘संयुक्त अरब अमीरात का फ्री जोन माडल हमारे विविध आर्थिक विकास के नजरिये के अनुकूल विकास के लिए एक उत्कृष्ट उत्साहवर्धक साबित हुआ है । हमारे मुक्त क्षेत्र इस संदर्भ में बेहद खास रहे हैं कि उन्हें एक आर्थिक विकास रणनीति के मुताबिक विकसित किया गया है जिसमें आर्थिक विविधता भी है और शीर्ष प्राथमिकता के तौर पर एक उपयुक्त आर्थिक एवं व्यापारिक माहौल तैयार हुआ है ।’’ शेखा लुबना ने कहा, ‘‘इसके अलावा संयुक्त अरब अमीरात में : मुक्त क्षेत्रों के जरिये : प्रत्यक्ष विदेशी निवेश का कुल हिस्सा तकरीबन 73 अरब अमेरिकी डालर : 268 अरब एईडी : तक पहुंच गया है जिससे हम अरब विश्व में एफडीआई आकषिर्त करने वाले दूसरे सबसे बड़े देश बन गए हैं । यह आकलन यूएन कांफ्रेंस आन ट्रेड एंड डेवलपमेंट : यूएनसीटीएडी : के मुताबिक किया गया है ।’’ मंत्री ने कहा कि यूएनसीटीएडी की रिपोर्ट के मुताबिक, यूएई वर्ष 2009 में नई प्रत्यक्ष विदेशी निवेश : एफडीआई : परियोजनाओं की संख्या के मामले में वैश्विक स्तर पर 14वें स्थान पर पहुंच गया है जहां करीब 230 परियोजनाएं हैं यानी संपूर्ण विश्व में मौजूद नए एफडीआई में 1.7 फीसदी की हिस्सेदारी रखता है । हम महज पांच वषरें के दौरान ही अपनी 123 प्रतिशत परियोजनाओं को सफलतापूर्वक विकसित करने में सक्षम हो गए हैं ।’’ शेखा लुबना ने कहा, ‘‘यूएई के मुक्त क्षेत्र अंतरराष्ट्रीय कारोबार तथा पुनर्नियात गतिविधियों में बेहद महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं । यूएई अब विश्व के शीर्ष व्यावसायिक केंद्रों में से एक बन गया है और यह अपने निवेशकों की प्रतिस्पर्धा को और मजबूत करता है ताकि वे नए बाजार में प्रवेश कर सकें और अपने व्यावसायिक अभियानों का विस्तार कर सकें ।’’ इस सम्मेलन को अंतरराष्ट्रीय प्रतिनिधियों की मेजबानी और पूरी दुनिया के विभिन्न संगठनों से आए प्रमुख वक्ताओं के अलावा वर्ल्ड फ्री जोन कन्वेंशन के चेयरमैन और यूरोपियन पालिसी फोरम, लंदन एंड ब्रुसेल्स के अध्यक्ष ग्राहम मैथर ने भी संबोधित किया ।
सम्मेलन के दौरान मुक्त क्षेत्रों के प्रतिनिधि अपने अधिकार क्षेत्र में संचालन के लिए छोटे तथा मंझोले कारोबारी : एसएमबी : सेक्टर को और अधिक आकषिर्त करने के तरीके भी तलाशेंगे । अल ओमरी ने कहा, ‘‘हम समझते हैं कि वैश्विक एसएमबी सेक्टर अत्यधिक सेवा अधीन है और व्यापारिक समाधान लांच करने के लिए लगातार कम खर्चीले समाधानों की तलाश कर रहे हैं । लिहाजा यह बेहद महत्वपूर्ण क्षेत्र है जो सम्मेलन के दौरान हुई हमारी बातचीत पर फोकस को बरकरार रखेगा ।’’ आरएके एफटीजेड इस दो दिवसीय सम्मेलन तथा प्रदर्शनी का प्लैटिनम प्रायोजक है जो ‘गैदरिंग ग्लोबल सपोर्ट फार फ्री जोन इंडस्ट्री’ के थीम और ‘हारनेसिंग इकोनामिक जोन्स वर्ल्डवाइड टू द काउज आफ इकोनामिक रिकवरी, डायनामिक ग्रोथ एंड स्ट्रेंथेंड वर्ल्ड ट्रेड’ के स्लोगन के तहत आयोजित किए जा रहा है ।
सम्मेलन और इसके एजेंडे के बारे में विस्तृत जानकारी इस साइट पर उपलब्ध है http://www.wfzc2010.com
 रास अल खमाह फ्री ट्रेड जोन अथारिटी के बारे में
 : रास अल खमाह फ्री ट्रेड जोन : आरएके एफटीजेड : संयुक्त अरब अमीरात में सबसे तेजी से विकसित होते और सर्वाधिक सस्ते मुक्त व्यापार क्षेत्रों में से एक है । सामथ्र्यक्षमता, फ्लेक्सिबिलिटी और वृहद भौगोलिक पहुंच वाली छवि के साथ आरएके एफटीजेड इस क्षेत्र में पसंदीदा व्यापारिक केंद्र के तौर पर तेजी से उभर रहा है जहां से निवेशक उभरते बाजारों तक आसानी से पहुंच बना सकते हैं और इनमें अपनी शाखाएं रख सकते हैं ।
वर्ष 2000 में अपनी स्थापना के बाद से ही सिर्फ दक्ष कर्मचारियों और कुछ कार्यालयों के साथ यह मुक्त क्षेत्र बड़ी तेजी से विकसित हुआ है और अब पूरी दुनिया के 106 देशों की 4,000 से अधिक कंपनियों का ठिकाना बन गया है जो यूएई के चार केंद्रों पर बने व्यापारिक और प्रोत्साहन सेंटरों पर संचालन करती हैं । इस जोन ने जर्मनी, तुर्की, भारत और संयुक्त अरब अमीरात में संपर्क कार्यालय खोलते हुए अपनी अंतरराष्ट्रीय मौजूदगी बढ़ाई है ।
आरएके एफटीजेड अपने बिजनेस पार्क, इंडस्ट्रियल पार्क, टेक्नोलाजी पार्क तथा एकेडमी जोन की संलग्नता वाला एक अनूठा तथा चार-पार्कों का सिस्टम भी तैयार किया है जिनमें से प्रत्येक सिस्टम एकसमान सुविधा देता है और निवेशकों को लाभ पहुंचाता है । अपनी उत्कृष्ट प्रौद्योगिकी और ग्राहकों पर गंभीरता से फोकस करते हुए यह मुक्त व्यापार क्षेत्र आन-डिमांड तथा कस्टम-निर्मित समर्थन सेवाओं की पेशकश करता है । 100 फीसदी विदेशी स्वामित्व और 100 फीसदी पूंजी तथा लाभ प्रत्यार्पण, कर मुक्त माहौल तथा पारदर्शी कानून जैसे नियमों से समर्थित यह मुक्त व्यापार क्षेत्र विश्व वाणिज्य के लिए अच्छी स्थिति बना चुका है ।
आरएके फ्री ट्रेड जोन के बारे में अधिक जानकारी के लिए देखें :http://www.rakftz.com
 विशेष जानकारी के लिए कृपया संपर्क करें : क्लियो एलिजर पब्लिक रिलेशंस एंड मीडिया आफिसर रास अल खमाह फ्री ट्रेड जोन अथारिटी : आरएके एफटीजेडए : फोन : 971 7 2077173 ई-मेल : सी डाट एलिजर एट आरएकेएफटीजेड डाट काम एडवर्ड डी’मेलो वरिष्ठ सलाहकार स्फिंक्स होल्डिंग पब्लिक रिलेशंस टेलीफोन : 971 50 6776153 ईमेल : एडवर्ड डाट डी एट स्फिंक्सहोल्डिंग डाट काम स्रोत : रास अल खमाह फ्री ट्रेड जोन अथारिटी पीआरन्यूजवायर- एशियानेट : रंजन रंजन पीडब्ल्यूआर5 11041451 दि