Warning: include(/home/asiaprn/public_html/wp-content/blogs.dir/11/config.php) [function.include]: failed to open stream: No such file or directory in /home/asiaprn/public_html/wp-settings.php on line 2

Warning: include() [function.include]: Failed opening '/home/asiaprn/public_html/wp-content/blogs.dir/11/config.php' for inclusion (include_path='.:/usr/local/lsws/lsphp5/lib/php') in /home/asiaprn/public_html/wp-settings.php on line 2

Warning: include(/home/asiaprn/public_html/wp-includes/SimplePie/Net/db.php) [function.include]: failed to open stream: No such file or directory in /home/asiaprn/public_html/wp-settings.php on line 4

Warning: include() [function.include]: Failed opening '/home/asiaprn/public_html/wp-includes/SimplePie/Net/db.php' for inclusion (include_path='.:/usr/local/lsws/lsphp5/lib/php') in /home/asiaprn/public_html/wp-settings.php on line 4
उभरते बाजारों की चुनौतियों हेतु उच्च-क्षमता वाले लीडर बनाने के लिए एस्सेक ने नई पद्धति का नया वैश्विक एमबीए प्रोग्राम तैयार किया : प्रेस विज्ञप्ति

उभरते बाजारों की चुनौतियों हेतु उच्च-क्षमता वाले लीडर बनाने के लिए एस्सेक ने नई पद्धति का नया वैश्विक एमबीए प्रोग्राम तैयार किया

स्रोत: 42582 ESSEC
श्रेणी: General
 
 
 
17/12/2010 10:59:12:230AM
 
उभरते बाजारों की चुनौतियों हेतु उच्च-क्षमता वाले लीडर बनाने के लिए एस्सेक ने नई पद्धति का नया वैश्विक एमबीए प्रोग्राम तैयार किया
सरगी,फ्रांस 16 दिसंबर:पीआरन्यूजवायर-एशियानेट:- एस्सेक बिजनेस स्कूल ने नये एमबीए का शुभारंभ किया जो पेशेवरों को वर्तमान गंभीर वैश्विक चुनौतियों जैसे उर्जा, हेल्थ केयर और उभरते बाजारों में ट्रांसपोर्टेशन हेतु अद्वितीय अंतर्दृष्टि प्रदान करने पर केन्द्रित होगा । स्कूल – सितम्बर 2011 से अपने छात्रों का स्वागत करेगा- जो 30 से 50 छात्र से बना होगा ।
12 महीने के एमबीए प्रोग्राम में नेटव*++++++++++++++++++++++++++++र्*ंग सेमिनार : उभरते बाजारों जैसे अफ्रीका, भारत और चीन के लिए सीखने के लिए अनुभवात्मक यात्रा : और सिंगापुर तथा पूर्वी यूरोप का स्टडी ट्रिप । अंतिम 3-सप्ताह के क्रास-डिसिप्लीनरी परियोजना में, कैपस्टोन संगोष्ठी होगी , जो छात्रों को पूरे एमबीए प्रोग्राम में क्या सीखा इसे एकीकृत करने की अनुमति देगा ।
एस्सेक बिजनेस स्कूल के डीन अशोक सोम ने बताया, ‘‘एस्सेक ग्लोबल एमबीए को ज्ञान का विस्तार करने के साथ ही अनुभवात्मक अधिगम विधि जो प्रतिभागियों को निरंतर चुनौती देता रहता है, को देखते हुये डिजाइन किया गया है । प्रोग्राम उनकी महत्वपूर्ण सोच को खोलेगा और उनमें रचनात्मक योग्यता लायेगा । ’’ एमबीए की फिलोसाफी ही पेशेवरों को वर्तमान आर्थिक चुनौतियों के लिए तैयार करना है । इसकी प्राथमिकता में ‘‘न्यू फ्रंटियर’’ विषयों को खोज है जिसमें, उर्जा, सीएसआर, और नीतिगत मामले, नई तकनीक का प्रबंधन, ट्रांसपोर्टेशन, जल, हेल्थ केयर, शिक्षा और शहरीकरण तथा खासकर, निजी-सार्वजनिक साझेदारी वाले क्षेत्रों में सरकार की भूमिका , शामिल है ।
प्रोग्राम का हरेक तत्व इस तरह से बनाया गया है जिससे वो सामान्य अधिगम प्रक्रिया से मेल खाये : अनिवार्य और वैकल्पिक कोर्सवर्क के माध्यम से अवशोषण करने वाला, पेशेवरों से नेटवर्क करने वाला, दो स्टडी ट्रिप से क्या सीखा इसे एकीकृत करने वाला, उभरते बाजारों के अनुभवात्मक अधिगम परियोजना के दौरान उसे लागू कराने:क्रियान्वयन वाला और कैपस्टोन सेमिनार के दौरान उसको सलीके से प्रस्तुत करना । इस सबके दौरान, छात्रों को करियर की योजना बनाने और सलाह ले पायेंगे ।
सोम ने बताया,‘‘हम अपने छात्रों का चुनाव करने में काफी सजग हैं । हम पहले दिन से ही छात्रों को जरूरी करियर प्लेस्मेंट टूल प्रदान करेंगे जिससे वो प्रोग्राम में ग्रैजुएट होने से पहले ही अपने लक्ष्य को हासिल करने के काबिल होंगे ।’’ एस्सेक, स्कूल के कई स्पेशलाइजिड चेयर्स में से छात्रों को अपने मन मुताबिक विभिन्न संगोष्ठियों में से किसी एक विषय को खोजने देगा । छात्र संगोष्ठियों में से एक का चुनाव करेंगे, उदाहरण के लिए, फैमिली फम्र्स और लक्जरी बिजनेस, स्पोर्टस मार्केटिंग इंसाइट्स, स्वास्थ्य अर्थशास्त्र और रणनीति, सामाजिक उद्यमिता, रिअल स्टेट का विकास, डिजाइन और निर्माण, अभिनव सेवा रणनीति, 21वीं सदी में मिडिया की भूमिका और विविधता और प्रदर्शन ।
सोम ने बताया कि, आने वाले छात्रों के पास आदर्श रूप से 2 साल की प्रबंधकीय पदवी के साथ औसतन छह साल का व्यावसायिक अनुभव जरूरी होगा ।
‘‘फास्ट-ट्रैक प्रोग्राम अनुभवी पेशेवरों को जब वो लोग नये ज्ञान के साथ अपने करियर को और बढ़ाने के लिए अपने काम पर वापिस लौटेंगे तो अनूठा अवसर प्रदान करेगा । यह एमबीए से कुछ ज्यादा है । यह प्रतिभागियों को अपनी योग्यता को बदलने का दान देगा । ’’ एस्सेक के बारे में एस्सेक, इकोल सुपरइयूरे देस साइंसेस इकोनामिक्स इत कमर्शियल्स :हायर इंस्टीटयूट आफ इकोनामिक एण्ड कमर्शियल साइंसेस :, जो कि विश्व के शीर्ष प्रबंधन स्कूलों में से एक है, की स्थापना 1907 में हुई थी । 4,200 छात्रों, विस्तृत प्रबंधकीय प्रशिक्षण कार्यक्रमों की श्रृंखला, दुनिया के बड़े विश्वविद्यालयों के साथ साझेदारी के साथ, 35,000 पूर्व छात्रों के नेटवर्क, 135 पूर्णकालिक प्रोफेसरों के संकाय, जिन्हें उनकी गुणवत्ता और शोध दोनों के लिए जाना जाता है, के साथ एस्सेक अकादमिक उत्कृष्ठता की संस्कृति को निरंतर आगे बढ़ा रहा है और अर्थशास्त्र, सामाजिक विज्ञान और नई पद्धति के क्षेत्र में खुलेपन का जज्बा ला रहा है । और ज्यादा जानकारी के लिए  http://www.essec.fr
मिडिया पूछताछ के लिए : अन्ना वलास्को एट नोएर सुर ब्लांक, फोन :1-646-201-5327, ईमेल: एवलास्को एट नोएरसुरब्लांक डाट काम स्रोत : एस्सेक पीआरन्यूजवायर :एशियानेट :किरण अमर पीडब्ल्यूआर1 12171006 दि