क्यूपीएस ने डीसीबी ताईवान की प्रीक्लिनिकल यूनिट के अधिग्रहण के साथ ही टाक्सीकोलाजी सेवाओं में विस्तार किया

स्रोत: QPS asianet 43248
श्रेणी: Medical and Health Care
 
 
 
16/02/2011 2:00:47:317AM
 
क्यूपीएस ने डीसीबी ताईवान की प्रीक्लिनिकल यूनिट के अधिग्रहण के साथ ही टाक्सीकोलाजी सेवाओं में विस्तार किया
न्यूआर्क, डेल. और ताइपे, ताईवान, 14 फरवरी, 2011, पीआरन्यूजवायर- एशियानेट ।
जीएलपी-जीसीपी अनुपालन अनुबंध से जुड़े शोध की पूर्ण सेवा की अग्रणी संस्था क्यूपीएस होल्डिंग्स, एलएलसी, जो प्रीक्लिनिकल एवं क्लिनिकल शोध एवं विकास का समर्थन करने के लिए परीक्षण सेवाएं प्रदान करती हैं, ने ताईवान के डेवलपमेंट सेंटर फार बायोटेक्नोलाजी : डीसीबी : से सेंटर आफ टाक्सीकोलाजी एंड प्रीक्लिनिकल साइंसेज : सीटीपीसी : के अधिग्रहण की घोषणा की है । ताइपे स्थित सीटीपीएस अब क्यूपीएस-ताईवान की इकाई हो जाएगी ।
क्यूपीएस वर्ष 1995 से एक वैश्विक सीआरओ है जो ड्रग डिस्कवरी और विकास में सहयोग करती है । इसकी विशेषता वाले पांच क्षेत्रों में शामिल हैं : प्रीक्लिनिकल डीएमपीके-टाक्सीकोलाजी, बायोएनलिटिकल, ट्रांसलेशनल मेडिसीन, शुरुआती चरण का क्लिनिकल एवं आखिरी चरण का क्लिनिकल शोध ।
सीटीपीएस एक आईएसओ-आईईसी 17025 सर्टिफाइड, जीएलपी अनुपालक : ताईवान डीओएच, ओईसीडी : तथा एएएएलएसी मान्यता प्राप्त केंद्र है जो सामान्य नानक्लिनिकल टाक्सीसिटी एवं सुरक्षा परीक्षण, जेनेटिक टाक्सीकोलाजी, रीप्रोडक्टिव टाक्सीकोलाजी, इम्युनोटाक्सीसिटी टेस्टिंग, बायोकम्पैटिबिलिटी टेस्टिंग और डीएमपीके स्टडी में विशेषज्ञता रखती है । टाक्सीकोलाजी एवं प्रीक्लिनिकल सेवाओं का यह केंद्र 5600 वर्गमीटर : 60,000 वर्गफुट : दायरे में फैला हुआ है और इसमें शामिल हैं : सात प्रयोगशालाएं, तीन कल्चर रूम, एक क्वालिटी एश्योरेंस यूनिट, आरकाइव्स और एनिमल हाउसिंग के दो फ्लोर ।
पिछले 12 वषरें के दौरान डीसीबी ने अमेरिकी आईएनडी सबमिशन के लिए 17 परियोजनाओं, ताईवान आईएनडी सबमिशन या क्लिनकिल ट्रायल के लिए 18 परियोजनाओं तथा ताईवान एनडीए अनुमोदन पाने की कोशिश करने वाले दो उत्पादों सहित स्थानीय तथा अंतरराष्ट्रीय ग्राहकों के लिए 890 से अधिक अध्ययन किया है ।
क्यूपीएस-ताईवान के अध्यक्ष एवं सीईओ विंसेंट येन कहते हैं, ‘‘एशिया पैसिफिक क्षेत्र का बायोटेक बड़ी तेजी से विस्तारित हो रहा है । अपनी स्थापित बायोएनलिटिकल एवं फार्माकोकायनेटिक विशेषज्ञता में एक जानी-पहचानी टाक्सीकोलाजी इकाई को शामिल करने से क्यूपीएस अब उच्च गुणवत्तापूर्ण प्रीक्लिनिकल सेवाओं के लिए बढ़ती स्थानीय तथा अंतरराष्ट्रीय मांग को पूरा करने का वन-स्टाप समाधान प्रदान कर सकती है । यूरोप तथा भारत में हमारे हाल के अधिग्रहणों के अलावा यह पहल विश्व स्तरीय वैश्विक क्षमताओं के निर्माण में अगले कदम को प्रस्तुत करती है ।’’ क्यूपीएस के नए उपाध्यक्ष एवं ग्लोबल सेफ्टी एसेसमेंट एंड रेगुलेटरी अफेयर्स के प्रमुख डा. वाल्टर बी प्रीक्लिनिकल डेवलपमेंट में सीआरओ तथा फार्मा-बायोटेक अनुभव का 20 वषरें से अधिक का समय दे चुके हैं । उन्होंने कहा, ‘‘मैं एक ऐसी संस्था के साथ जुड़कर रोमांचित हूं जो क्यूपीएस के तौर पर अत्यधिक सम्मानित और प्रगतिशील है । डीसीबी टाक्सीकोलाजी यूनिट को शामिल किए जाने से फर्स्ट-रेट, सटीक सेवा प्रदान करने के लिए एक सराहनीय ट्रैक रिकार्ड से लैस कोई शीर्ष स्तरीय टाक्सीकोलाजी केंद्र निश्चित रूप से क्यूपीएस के वैश्विक ग्राहकों के लिए पेशकशों को बढ़ाती है ।’’ क्यूपीएस के बारे में क्यूपीएस वैश्विक स्तर के फार्मास्यूटिकल और बायोटेक्नोलाजी ग्राहकों को बायोएनलिसिस, ड्रग मेटाबोलिज्म और फार्माकोकायनेटिक्स, ट्रांसलेशनल मेडिसीन और क्लिनिकल शोध के क्षेत्र में जीएलपी-जीसीपी अनुपालक प्रीक्लिनिकल एवं क्लिनिकल शोध सेवाएं प्रदान करती है । वर्ष 1995 में डा. बेन चिएन द्वारा स्थापित क्यूपीएस का इसके न्यूआर्क, डीई स्थित मुख्यालय में बायोएनलिसिस एवं प्रीक्लिनिकल टेस्टिंग केंद्र हैं जबकि अन्य केंद्र इसके नीदरलैंड के ग्रोनिनजेन, ताईवान के ताइपे तथा भारत के हैदराबाद में हैं । शुरुआती चरण के इसके क्लिनिकल केंद्र एमओ के स्प्रिंगफील्ड, ताईवान के ताइपे, नीदरलैंड के ग्रोनिनजेन तथा भारत के हैदराबाद में हैं । इसके व्यापार विकास कार्यालय अमेरिका, यूरोप तथा एशिया में संचालित किए जाते हैं ।
डीसीबी के बारे में
ताईवान के डेवलपमेंट सेंटर फार बायोटेक्नोलाजी : डीसीबी : की स्थापना वर्ष 1984 में डिपार्टमेंट आफ इंडस्ट्रियल टेक्नोलाजी : डीओआईटी : तथा आर्थिक मामलों के मंत्रालय : एमओईए : के समर्थन से की गई । डीसीबी की स्थापना का मुख्य उद्देश्य शोध एवं विकास, अधोसंरचना निर्माण तथा प्रशिक्षण कार्यक्रमों के जरिये ताईवान के बायोटेक्नोलाजी उद्योग को ढालने और विकसित करने में मदद करने के लिए था । डीसीबी ने सरकारी, शैक्षणिक तथा औद्योगिक कार्यक्रमों में जोश भरने के लिए फैसिलिटेटर की अहम भूमिका निभाई है और ताईवान के बायोटेक उद्योग को दुनिया के साथ जोड़ने के लिए एक महत्वपूर्ण सेतु के तौर इसने अपनी सेवाएं दी है ।
http://www.qps-usa.com
स्रोत : क्यूपीएस होल्डिंग्स, एलएलसी संपर्क : क्यूपीएस बेन चियेन, पीएचडी, चेयरमैन, अध्यक्ष एवं सीईओ, क्यूपीएस होल्डिंग्स, एलएलसी, 1 650 599 9445 सीए आफिस, बेन डाट चिएन एट क्यूपीएस-यूएसए डाट काम या डेवलपमेंट सेंटर फार बायोटेक्नोलाजी, विंसेंट येन, सीईओ, क्यूपीएस ताईवान, 886 2 2655 7555, पीआरन्यूजवायर- एशियानेट : रंजन रंजन पीडब्ल्यूआर2 02141509 दि