एक उल्लेखनीय फैसले ने आस्ट्रेलिया को विवाद निपटारे के विश्व स्तरीय रेफरी का मुकाम दिलाया

स्रोत: Australian Centre Asianet 43734
श्रेणी: General
 
 
 
14/03/2011 3:09:27:963PM
 
एक उल्लेखनीय फैसले ने आस्ट्रेलिया को विवाद निपटारे के विश्व स्तरीय रेफरी का मुकाम दिलाया
सिडनी, आस्ट्रेलिया, 14 मार्च, 2011, मीडियानेट इंटरनेशनल- एशियानेट ।
आस्ट्रेलियाई सरकार ने आस्ट्रेलियन सेंटर फार इंटरनेशनल कमर्शियल आरब्रिटेशन : एसीआईसीए : को नए अंतरराष्ट्रीय मध्यस्थता कानून के तहत व्यावसायिक विवादों के निपटारे के लिए एकमात्र डिफाल्ट नियुक्ति प्राधिकरण के तौर पर नियुक्त किया है ।
यह उल्लेखनीय फैसला इस कानून के तहत नियुक्त किसी मध्यस्थ की मौजूदगी कारण स्टेट या देश में से किसी सुप्रीम कोर्ट में या फेडरल कोर्ट में होने वाली कार्यवाही के लिए पार्टियों की जरूरत को खत्म करता है ।
इस फैसले का स्वागत करते हुए एसीआईसीए के अध्यक्ष एवं क्लेटान यूटीजेड में बड़ी परियोजनाओं तथा इंटरनेशनल आरब्रिटेशन के प्रमुख प्रोफेसर डोग जोन्स एएम ने कहा : ‘‘एक और केंद्रीकृत निकाय लागत तथा देरी में महत्वपूर्ण कमी लाएगा और कार्यवाही की निश्चितता की सुनिश्चित करेगा एवं सभी शेयरधारकों द्वारा स्पष्ट रूप से ज्ञात तथा मान्य नियुक्ति की प्रक्रिया आगे बढ़ाएगा ।’’ कोर्ट द्वारा नियुक्ति की पूर्ववर्ती व्यवस्था के तहत पार्टियों को फैसला करना होगा कि नौ विकल्पों में से कौन सा कोर्ट कार्यवाही को आगे बढ़ाए ।
प्रोफेसर जोन्स ने कहा, ‘‘एसीआईसीए किसी मध्यस्थ की नियुक्ति के लिए 1000 डालर का शुल्क लेती है जबकि अदालतों द्वारा नियुक्त मध्यस्थ का खर्च 20,000 डालर तक हो सकता है जो इस बात पर निर्भर करता है कि इस विवाद पर मुकदमा हुआ है या नहीं ।’’ अंतरराष्ट्रीय व्यावसायिक मध्यस्थस्ता के बढ़ते महत्व पर टिप्पणी करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘यह वैश्विक अर्थव्यवस्था में अंतरराष्ट्रीय कारोबारियों की पसंदीदा प्रक्रिया के तौर पर उभरी है । निवेशक किसी विदेशी अदालती प्रणाली में मुकदमेबाजी की अनिश्चितता से बचना चाहते हैं जहां उन्हें कार्यवाही के दौरान जान पहचान के अभाव से जूझना पड़ता है और स्थानीय न्यायिक फैसले के बाहर प्रवर्तन की अनिश्चितता का डर बना रहता है ।’’ वर्ष 2008 में प्राइसवाटरहाउसकूपर्स के सर्वे ‘इंटरनेशनल आरब्रिटेशन : कारपोरेट एटिट्यूड्स एंड प्रैक्टिसेज’ से जाहिर हुआ है कि 73 फीसदी कंपनियां अपने सीमा पार विवादों के निपटारे के लिए विदेशी मुकदमेबाजी के बजाय अंतरराष्ट्रीय मध्यस्थता का इस्तेमाल करना पसंद करते हैं और इस मध्यस्थता को व्यापारिक संबंधों के सफल संरक्षण के तौर पर देखा जाता है ।
एटार्नी-जनरल, हाईकोर्ट तथा फेडरल के मुख्य न्यायाधीशों, आस्ट्रेलियन बार एसोसिएशन के अध्यक्ष, ला काउंसिल आफ आस्ट्रेलिया के अध्यक्ष एवं अन्य औद्योगिक प्रतिनिधियों सहित प्रतिनिधियों का बोर्ड इस नियुक्ति प्रक्रिया का अवलोकन करेगा ।
एसीआईसीए 50 से अधिक ग्लोबल आरब्रिटल संस्थानों के साथ सहयोग के लिए एक हस्ताक्षर है और पेशे तथा उद्योगों की विविध रेंज के प्रमुख स्थानीय एवं अंतरराष्ट्रीय मध्यस्थों के एक पैनल को बढ़ावा देती है ।
एसीआईसीए की नियुक्ति अंतरराष्ट्रीय व्यावसायिक विवादों के निपटारे के लिए एक आकषर्क तटस्थ केंद्र के रूप में आस्ट्रेलिया की स्थिति बनाने के लिए आस्ट्रेलियन इंटरनेशनल डिसप्यूट्स सेंटर (www.disputescentre.com.au) की स्थापना के साथ ही निर्णायक कानूनी सुधार का संकेत देती है ।
प्रोफेसर जोन्स ने कहा, ‘‘किसी कानूनी और व्यापारिक संदर्भ में आस्ट्रेलिया एक वांछित स्थान है और अगर वांछनीय नहीं है तो हमारे क्षेत्र में किसी अन्य स्थान की तुलना में पसंदीदा है ।’’
संपर्क : गियाना टोटैरो एसीआईसीए मीडिया रिलेशंस 61 :0:438 337 328 जीटोटैरो एट एसीआईसीए डाट ओआरजी डाट एयू
स्रोत : आस्ट्रेलियन सेंटर फार इंटरनेशनल कमर्शियल आरब्रिटेशन मीडियानेट इंटरनेशनल- एशियानेट : रंजन रंजन पीडब्ल्यूआर2 03141434 दि