: सम्मिट:एनर्जी 2030 के उद्घाटन पर भविष्य के नेता वैश्विक उर्जा के समाधान हेतु प्रस्ताव रखेंगे

स्रोत: Perimeter Institute for Theoretical Physics-44704
श्रेणी: Energy and Power
 
 
 
25/05/2011 11:54:23:390AM
 
 वाटरलू,ऑनटारियो,कनाडा 24 मई:सीएनडब्ल्यूएशियानेट :-

कल्पना कीजिए कि आप बीच वर्ष आगे की यात्रा कर रहें होंक्या हम अपने भविष्य की पीढ़ी को बढ़ती जनसंख्या, जीवाश्म इंधन के निकास और वर्तमान उच्चकार्बन उर्जा विकल्प के पर्यावरण पर पड़ते प्रभाव का ज्ञान देने में सक्षम होंगे जिसकी उन्हें सख्त जरूरत होगी ? कनाडा के ओन्टारियो, वाटरलू में 5 जून से 9 जून 2011 के बीच होने वाले इक्वीनोक्स सम्मिट : एनर्जी 2030 :(www.equinoxsummit.org) : आज के विशेषज्ञों को बीते हुये कल के नेताओं से जोड़ रहा है ताकि वैश्विक उर्जा पर विचार विमर्श को फिर से आगे बढ़ाया जा सके और भविष्य में कैसे अत्याधुनिक विज्ञान तथा तकनीक तेजी से बढ़ते और कार्बन घटाने के तरीकों को उन्नत तरीके से ढूंढ सके
वैश्विक कार्यसूची अग्रणी वैज्ञानिक विशेषज्ञों और अनुभवी सलाहकारों के साथ काम करने के लिए, हमने 18 सदस्यों को एक्वीनॉक्स सम्मिटस फोरम ऑफ फ्युचर लीडर्स में हिस्सा लेने के लिए चुना है यह असाधारण तौर पर युवा लोग, 20 से 30 वर्ष के हैं, जो 12 विभिन्न देशों तथा वृहद नेटवर्क का प्रतिनिधित्व करते हैं जो हमारे दीर्घकालिक भविष्य को तैयार करने के लिए वैश्विक समाज में असिमित बदलाव को प्रेरित कर सकता है हमारे फोरम के सदस्यों का त्वरित स्नैपशॉट : – कनाडा की ज़ोये कैरन, जिनकी अक्षय उर्जा के प्रति उत्साह ने उन्हें कनाडा की विश्व वन्यजीव कोष में जलवायु नीति और एडवोकेसी विशेषज्ञ के स्थान पर पहुंचा दिया है
अमेरिका के केरी चियोंग, जो अमेरिकन एसोसिएशन फॉर एडवांसमेंट ऑफ साइंस में विज्ञान और प्रौद्योगिकी फेलो के तौर पर स्मार्ट ग्रिड टेक्नोलॉजी का परीक्षण करते हैं
कोस्टा रिका के फेलिप दी लियोन, जिन्होंने स्वच्छ उर्जा परियोजनाओं को समूचे मध्य अमेरिका के लिए विकसित किया है जो कि क्योटो प्रोटोकॉल के क्लीन डेव्लेपमेंट मेकेनिज्म का हिस्सा है
चीन के जिआन हुआ डिंग, जिन्होंने चीन के आवास, शहरी और ग्रामीण विकास के मंत्रालय के लिए, कार्बन उत्सर्जन पर अमूल्य सलाह नीति पर मसौदा तैयार किया हैनाइजीरिया के माइकलडोनोवन इज़ेलो, जिनके सहयोगात्मक कार्य ने कई पर्यावरणीय नीतियों के विकास का रास्ता प्रशस्त किया ,जो 2010 में नाइजीरिया का कानून बन गयापाकिस्तान की आयशा मसूद, जिन्होंने अक्षय उर्जा के विकास के लिए अपने देश और उससे इतर भी सार्वजनिक अभियानों और छात्र शिक्षा के जरिए लगन से काम कियाडेनमार्क के जाकोब नायगार्ड जिन्होंने यूरोपीय संसद की पर्यावरण और उर्जा नीति पर शोध और विश्लेषण कियाइंडोनेशिया की गीता सयाहरानी, जिनकी इंटरनेशनल लीगल एडवोकेसी ने उन्हें इंडोनेशियाई सरकार को राष्ट्रीय लोकार्बन तथा स्वच्छ उर्जा निवेश रणनीति पर सलाह देने की अनुमति दी
फोरम में भाग लेने वाले अन्य प्रतिभागियों की पूरी सूची हमारे वेबसाइट 
http://wgsi.org/content/confirmed-participants-forum

पर मिल सकती है
सहयोग के माध्यम से उत्प्रेरक परिवर्तन मुक्त सहकार्य के चार दिन के तीव्र *++++++++++++++++++++++++++++र्*ंग सत्र में , यह अगलीपीढ़ी के नेता वैज्ञानिकों और सलाहकारों का कोरम स्थायी, इलेक्ट्रीफाइड भविष्य के लिए, क्षमता को बढ़ाने की जरूरतों, लचीलेपन और सुरक्षा की वृद्धि, तथा उर्जा प्रणालियों की योग्यता को सुधारने के लिए साथ मिलकर विचार करेगा इन सिफारिशों को 9 जून, 2011 को सम्मेलन के अंत में इक्वीनॉक्स कम्यूनिक्यू की प्रेजेनटेशन के जरिए साझा किया जायेगा
वाटरलू ग्लोबल साइंस इंनिशिएटिव :डब्लूजीएसआई: के बारे में :- वाटरलू वैश्विक विज्ञान पहलकदमी :डब्लूजीएसआई: वाटरलू विश्वविद्यालय और पेरिमेटर इंस्टीच्यूट फार थेयोरेटिकल फिजिक्स के बीच एक गैरमुनाफाकारी साझीदारी है डब्ल्यूूजीएसआई का मकसद विज्ञान और तकनीकों का उपयोग करके विश्व के सर्वाधिक आधारभूत सामाजिक, पर्यावरणीय और आर्थिक चुनौतियों के बारे में दीर्घमीयादी अवधारणों को विकसित करना और उनके समाधान के बारे में सलाह देना है
स्रोत :- पेरिमेटर इंस्टीच्यूट फार थेयोरेटिकल फिजिक्स मिडिया सम्पर्क के लिए आरजे टायलर, डब्ल्यूजीएसआई कम्यूनिकेशंस लाइजेन आरटायलर एट पेरिमेटरइंस्टीच्यूट डॉट सीए 519-569-7600 एक्सटेंशन 5371
अधिक विस्तार से जानकारी के लिए देखें :-