पी एंड जी के पथप्रदर्शक ‘‘ओमिक्स’’ शोध अध्ययन ने सौंदर्य नवोन्मेषों को उन्नत बनाया ।

स्रोत: P&G Beauty and Grooming -45611
श्रेणी: Fashion
 
 
 
01/08/2011 6:54:40:330PM
 
 सिंगापुर, 22 जुलाई, 2011 पीआर न्यूजवायरएशियाएशियानेट
त्वचा और केश जीवविज्ञान में स्थित आणविक जटिलताओं का सामधान करने और त्वचा तथा केशों की देखभाल के नए मार्गों को खोलने के लिए अत्याधुनिकओमिक्स’ उपकरण
प्रोक्टर एंड गैम्बल :: एनवाईएसई:पीजी:: नई प्रणालीगत जीवविज्ञानी ढंग को अपनाकर ‘‘ओमिक्स’ क्रांति के अगली कतार में है सौंदर्य की जटिलप्रणालियों’’ में विज्ञान के इस अद्यतन आविष्कार का अनुप्रयोग करने में आरंभिक सफलता प्राप्त हुई है त्वचाविज्ञान के हाल में हुए विश्व कांग्रेस 2011 में पी एंड जी ने समूची दुनिया में उपभोक्ताओं के सौंदर्य और चर्या की आवश्यकताओं को समझने मेंओमिक्स’ उपकरण का उपयोग जिन तरीकों से करता है, उनमें से कुछ तरीकों का प्रदर्शन किया उनमें महिला, पुरुष शामिल हैं जिनके सिर से पैर के अंगूठे, चेहरा, शरीर, केश और खोपडी सबपर इनका प्रयोग किया जाता है
::
फोटो: http://www.prnasia.com/sa/2011/07/21/20110721915852.html )
इकलौते प्रयोग में हजारों जीनों की गतिविधियों का विष्लेषण करने में जीन चिप्स का उपयोग करके पी एंड जी सौंदर्य और चर्या वैज्ञानिकों ने अनेक तरीकों को चिन्हित किया जो नए सौदर्य और चर्या उत्पादनों के लिए प्राथमिक शोध कार्यक्रम बन गए हैं ::फोटो: http://www.prnasia.com/sa/2011/07/21/20110721569367.html )
त्वचा और केश पर इन व्रिटो माडेलों के उपयोग के प्रभावों का विष्लेषण करने में उत्पादन विकास के दूसरे स्तर पर कार्यरत पी एंड जी सौंदर्य चर्या वैज्ञानिक डॉ. रोसेमारी ओस्बोर्न द्वारा उन्नतओमिक्स’ तकनीक के परिणामों का उपयोग किया गया।
ओमिक्स’ का नया विज्ञान हालांकि हाल के वषरें में सौंदर्य और चर्या के बारे में विचार विमशरें में जीनोमिक्स छाया रहा है, पर जीनोम अनुक्रमण और अन्यओमिक्स’ उपकरणों में नए उन्नयनों ने जीववैज्ञानिकों को विशेष जीवविज्ञानी प्रणाली के विशेष हिस्से के अध्ययन से ध्यान हटाकर समूचीप्रणाली’ की रूपरेखा तैयार करने का समाथ्र्य दिया हैजीनोम से प्रोटेओम और उससे मेटाबोलोम की ओर ध्यान देने का अवसर दिया है जीनोमिक्स जीनों की गतिविधियों याअभिव्यक्तियों का अध्ययन करता है और इसकी व्यख्या करता है कि जीन कैसे क्रियाशील होते हैं, एकदूसरे से संपर्क स्थापित करते हैं और पर्यावरणीय समरूपता पर प्रतिक्रिया जताते हैं
प्रोटेओमिक्स प्रोटीन और जीन की गतिविधियों के परिणामस्वरूप वे कैसे बदलते हैं, इसका अध्ययन करता है मेटाबोलोमिक्स जीन और प्रोटीन में परिवर्तन सेल के भीतर जैवरसायनिक प्रक्रियाओं पर कैसे प्रभाव डालते हैं, इसका अध्ययन करता है
हमारी बुनियादी त्वचा और केश प्रक्रियाओं के भीतर बीस हजार से अधिक जीन और दसियांे लाख से अधिक प्रोटीन मौजूद हैं
वैज्ञानिक जहां एक बार में केवल एक जीन या प्रोटीन का अनुमापन कर सकते हैं, ताजाओमिक्स’ उपकरण अब हमें एक अकेले प्रयोग के दौरान 94 लाख जीन परिवर्तनों और हजारों प्रोटीन अभिव्यक्त परिवर्तनों या मेटाबोलिटेस की निगरानी करने की सुविधा देते हैं पी एंड जी के वैश्विक जैवतकनीक विभाग के प्रमुख वैज्ञानिक डॉ. जय टिएस्मैन ने कहा कि ‘‘त्वचा और केश जीवविज्ञान के बारे में आंकडे और अंतर्दृष्टी के नाटकीय ढंग से बढते जाने का रहस्य इन उपकरणों और तकनीकों को एकसाथ करने में छिपा है
ओमिक्स’ क्रांति ने सौंदर्य और चर्या के बारे में हमारे विष्लेषण करने, सोचने और अनुभव करने के ढंग को उल्लेखनीय रूप से बदल दिया है इसने खेल के नियमों को बदल दिया है और त्वचा तथा केश जीवविज्ञान की सामान्य अवधारणाओं के संबंधित आणविक मार्गों के बारे में हमें अद्वितीय अंतर्दृष्टी प्रदान किया है ।’’ पी एंड जी टीम में डॉ. टिएस्मैन और अन्य अग्रणी वैज्ञानिकों में डॉ. रोसेमारी ओस्बोर्न, डॉ. जान ओब्लोंग और डॉ. राय ग्रांट पिछले दस वषरें से अधिक पी एंड जी मेंओमिक्स’ क्रांति के पथप्रदर्शक बने रहे हैं
सहकर्मियों की समीक्षा से संपन्न 45 आलेखों और 90 प्रस्तुतियों द्वारा समर्थित पी एंड जी के कुछ नवाचारी कार्य और सौंदर्य तथा चर्या क्षेत्र में विज्ञान के इस उल्लेखनीय उपलब्धियों का अनुप्रयोग करने में मिली सफलताओं में निम्नलिखित शामिल हैं:- –युवतर बनाम वृध्दतर त्वचा की पहचानपी एंड जी वैज्ञानिकों ने युवा और बुजुर्ग महिलाओं की त्वचा का विष्लेषण करने में जीन चिप्स का उपयोग किया जिससे फोटोएजिंग और क्रोनोलोजिकल एजिंग के प्रति त्वचा की प्रतिक्रिया को चिन्हित किया जा सके इनके विवरणों में तुलना करने से उन्हें पता चला फोटोएजिंग कई जीवविज्ञानी प्रक्रियाओं में वैसा ही प्रभाव डालती है जैसा क्रोनोलाजिकल एजिंग में
इसके अलावा पी एंड जी टीम ने उन समाधानों को चिन्हित करने में उन्नत मानवीय त्वचा माडेलों का इस्तेमाल किया जो बुजुर्गों की त्वचा के भी युवतर त्वचा जैसा दिखने में सहायता करते हैं इससे बुढापा विरोधी उन्नत फारमुला और रेजिमेन्स विकसित करने के लिए व्यापक संभावनाओं का मार्ग प्रशस्त हुआ संभावनाशील नए अवयवों और यौगिकों की पहचान करनाउनमें से एक पलकेटी, नियासिनामाइड और हेक्सामाइड जैसे पेप्टाइड के यौगिक हैं इसे जीनोमिक्स अंतर्दृष्टी से उर्जा मिलती है जिससे पता चलता है कि पेप्टाइडस कैसे कोलेगन ब्रेकडाउन को समाप्त करने में सहयोग करते हैं।
इसके साथ ही शोध दिखते हैं कि होक्सामाइडीन लिपिड के सिंथेसिस को फिर से बहाल कर सकते हैं जो त्वचा को उम्र के प्रभाव से बचाने के लिए अवरोधक क्रियाविधि के अनिवार्य तत्व होते हैं पलकेटी एक पाल्मिटोयललाइसीनथेरेओनाइन पेप्टाइड है जो कोलेगन ब्रेकडाउन के मार्गों को उल्लेखनीय रूप से घटा देता है त्वचा के मामले में लैंगिक विभेद की पहेली का समाधान करना – ‘ओमिक्स’ विज्ञान अब पुरुष और महिलाओं की त्वचा के प्रमुख विभेदों को पहचानने में भी सहायता करने वाला है जिससे आगामी वषरें में विवादों का समापन हो जाना है
दोनों लिंगों के त्वचा की बुनियादी जीवविज्ञानी प्रक्रियाएं समान होते हैं, पर पुरुषों की त्वचा के जीवविज्ञान में अनेक अनूठे गुणवत्ता होते हैंयह यूवी के प्रति अधिक संवेदनशील होता है घावों के धीरेधीरे भरने की योग्यता होती है, बासल रक्त प्रवाह अधिक होता है और दर्द सर्दी को सहने की क्षमता कम होती है
ओमिक्स’ उपकरण इसपर भी प्रकाश डालते हैं कि मर्दों के चेहरे के कुछ क्षेत्र महिलाओं की तुलना में सूजन और जलन के प्रति कैसे अधिक संवेदनशील होते हैं, जिसमें सबसे संवेदनशील उपरी गाल, गला और कानों के पास की त्वचा होती है
केश और खोपडी की देखभाल के विज्ञान को उन्नत बनानाप्रोटेओमिक्स केश और खोपडी विज्ञान को केशों में स्थित प्रोटीन के कार्यकलापों के बारे में गहरी अंतर्दृष्टी प्रदान कर तेजी से बदल रहा है जिसका प्रभाव केशों के नुकसान के बारे में वर्तमान समझदारी और नए अवयवों के बारे में प्रत्यक्ष शोध पर पडेगा
विशेषरूप से पी एंड जी के अत्याधुनिक प्रोटेओमिक्स तकनीक केश के फाइबर के उस विशेष तत्व को चिन्हित करने में सहायता कर रहे हैं जो केशों के नुकसान से सर्वाधिक प्रभावित हो हैं उससे पता चलता है कि केश के फाइबर उन क्षेत्रों पर नुकसान का सर्वाधिक प्रभाव पडता है और नुकसान को रोकने की विशेष रणनीतियों की छानबीन करते हैं
इस शोध का पी एंड जी के केशों की देखरेख के फारमुले पर व्यापक प्रभाव होगा जो केवल केशों की हिफाजत करने के बारे में है, बल्कि प्रोटीनों में नुकसान को बचाने में भी समर्थ होता है
हालांकिओमिक्स’’ विज्ञान का अनुप्रयोग अभी आरंभ ही हुआ है, पर सौंदर्य और चर्या के समूचे क्षेत्र में इसके अनुप्रयोग के दूरगामी प्रभावों की सूचना पी एंड जी के शोध को मिल रही है और वे कंपनी के नवाचारों को नए और विभिन्न दिशाओं में पहुंचने लगी हैं
इन प्रयासों का अधिकांश हिस्सा पी एंड जी के गहन वैज्ञानिक विशेषज्ञताओं को एकसाथ करने से संचालित हो रहे हैं जो वैश्विक स्तर पर सर्वोच्च शोध संस्थानों के समकक्ष है और साझीदारियों के प्रति पी एंड जी के प्रगतिशील रुख के अनुकूल हैं
पी एंड जी कस इंस्टीच्यूट फार सिस्टम्स बायोलाजी के साथ हाल में संपन्न साझ्ीदारी का प्रमुख उदेश्य त्वचा जीवविज्ञान के बारे में गहन अंतर्दृष्टी प्राप्त करना है जिसमें प्रमुख मसले के रूप में उम्र बढने के लक्षणों पर ध्यान केन्दीत किया गया है जिसका लक्ष्य विभिन्न परिस्थितियों में त्वचा में घटित होने वाले वैश्विक आणविक परिवर्तनों का माडेल विकसित करना है पी एंड जी में जैवतकनीक और प्रणालीगत जीवविज्ञान के सहयोगी निदेशक डॉ. जिम थाम्पसन ने कहा कि ‘‘‘ओमिक्स’ विज्ञान कुछ सर्वाधिक जटिल और पहेलिनुमा समस्याओं का समाधान करने में सहायता प्रदान कर रहा है जो अभी सौंदर्य तथा चर्या के क्षेत्र में मौजूद हैं
प्रत्येक पहेली जिनका हल हम कर रहे हैं, हम जिसे जानते हैं उसे केवल विस्तृत कर रही हैं, बल्कि नई और भविष्य की रहस्यमय संभावनाओं के द्वारा खोल रही हैं यह शोध वैज्ञानिक के रूप में केवल हमारे लिए उपयोगी है, बल्कि हम जिन त्वचा और केश उत्पादनों का प्रयोग प्रतिदिन करते हैं, उनके लिए भी उपयोगी है ।’’ पी एंड जी ब्यूटी एंड ग्रूमिंग के बारे में :- पी एंड जी सौंदर्य और चर्या उत्पादन विश्वभर की महिलाओं के सौंदर्य संबंधी सपनों को सकार करते है और मर्दों को प्रतिदिन बेहतर दिखने, महसूस करने और श्रेष्ठ बनने में सहायता देते हैं पी एंड जी सौंदर्य और चर्या उत्पादनों के एक सौ से अधिक ब्रांड लगभग 130 देशों में उपलब्ध हैं जिनकी बिक्री वित्त वर्ष 2007-2008 में लगभग 28 अरब डालर की हुई जिससे यह विश्व की सबसे बडी सौंदर्य और चर्या कंपनियों में एक बन गई पी एंड जी सौंदर्य एंड चर्या अग्रणी तकनीकों पर आधारित विश्वसनीय ब्रांड प्रस्तुत करते हैं जो सौंदर्य और चर्या की आवश्यकताओं को संपूर्ण रूप से पूरा करते हैं उनमें पेन्टेन:आर:, ओलाय:आर:, हेड एंड शोल्डर:आर:, मैक्स फैक्टर:आर:, कवर गर्ल:आर:, डीडीएफ:आर:, फ्रेडेरिक:आर:, वेलाफ्लेक्स:आर:, रिज्वाइस:आर:, सेबास्टीन प्रोफेशनल:आर:, हर्बल एसेंसेज:आर:, कोलेस्टोन:आर:, क्लैरोल प्रोफेशनल:आर:, नाइसएन इजी:आर:, वेनस:आर:, जिलेट:आर:, एसके-2:आर:, वेला प्रोफशनल:आर:, ब्रौन:आर: शामिल है
इसके अलावा एक अग्रणी प्रेस्टिज सुगंधी विभाग भी है जो बाजार में प्रवेश स्थल से लेकर उच्च स्तरीय विलासितापूर्ण तबकों में फैला है जिसके साथ वैश्विक ब्रांड जैसेहुगो बॉस:आर:, लेकोस्टे:आर:क्रिस्टीना एगुलेरा:आर: भी हैं
पी एंड जी :एनवाईएसई :पीजी: और उसके ब्रांडों के बारे में ताजा समाचारों और अधिक गहन सूचनाएं प्राप्त करने के लिए कृपया देखें :- http://www.pg.com
अतिरिक्त जानकारी के लिए कृपया संपर्क करें :- ताबिथ अांगवैलेरी टांन टेली.:- 65-6825-8074 , 65-6825-8057 एचपी :- 65-9879-8777 , 65-985097476 ईमेल :- टांग :एैट: वेबर्सहैंडविक डाट काम , वालेरी डाट टान :एैट: वेबर्सहैंडविक डाट काम स्रोत :- पी एंड जी ब्यूटी एंड ग्रूमिंग