एसपी टेक्निकल रिसर्च इंस्टीट्यूट आफ स्वीडन का सुरंग की संपूर्ण अग्नि सुरक्षा परीक्षण भारत में सुरक्षा की चिंताएं दूर करने में मदद कर सकता है

स्रोत: SP Technical Asianet 46501
श्रेणी: Building and Construction
 
 
 
27/09/2011 9:49:07:497PM
 
एसपी टेक्निकल रिसर्च इंस्टीट्यूट आफ स्वीडन का सुरंग की संपूर्ण अग्नि सुरक्षा परीक्षण भारत में सुरक्षा की चिंताएं दूर करने में मदद कर सकता है
नई दिल्ली, भारत, 26 सितंबर, पीआरन्यूजवायर- एशियानेट ।
एसपी टेक्निकल रिसर्च इंस्टीट्यूट आफ स्वीडन : एसपीटीआरआईओएस : द्वारा इस महीने किए गए संपूर्ण अग्नि सुरक्षा परीक्षण का निष्कर्ष नई दिल्ली में इस वर्ष आयोजित टनेल्स एंड अंडरग्राउंड कंस्ट्रक्शन इंडिया सम्मेलन के दौरान एक विशेष अंतदृष्टि प्रदान करेगा जहां कोंकण रेलवे, चेन्नई मेट्रो रेल, राइट्स एवं सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय प्रचलित सुरंग सुरक्षा के मुद्दों पर चर्चा के लिए तैयार हैं ।
आधुनिक अधोसंरचना में सुरंग अहम हिस्सा होती है और चूंकि वे आर्थिक विकास को बढ़ावा देते हुए विभिन्न प्रांतों या देशों को जोड़ने के लिए लगातार प्रचलित होती जा रही हैं इसलिए उनकी सुरक्षा के सवाल अनिवार्य हो गए हैं । भारत में सुरंगीकरण तथा भूमिगत निर्माण की तीव्र प्रक्रिया को देखते हुए भारत की विशेष परिस्थितियों के लिए अंतरराष्ट्रीय गतिविधियों की समीक्षा और उन पर चर्चा की अत्यधिक जरूरत आन पड़ी है ।
सुरंगों की अग्नि सुरक्षा के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त अग्रणी संस्था एसपी टेक्निकल रिसर्च इंस्टीट्यूट आफ स्वीडन ने इस महीने स्वीडन में संपूर्ण अग्नि परीक्षण संचालित करने की योजना बनाई है और घोषणा की है कि वे एक विशेष परख का साझा करेंगे और इस वर्ष दिसंबर में आयोजित होने वाले टनेल्स एंड अंडरग्राउंड कंस्ट्रक्शन इंडिया सम्मेलन के दौरान इन निष्कषरें की पहली रिपोर्ट पेश करेंगे । संस्था के मारगारेट सिमोन्सन मैकनेमी एवं जोहान लिंडस्ट्राम दोपहर के बाद एक त्वरित कार्यशाला आयोजित करेंगे जिसमें सुरंगों की अग्नि सुरक्षा के महत्वपूर्ण मसले पर चर्चा की जाएगी । प्रतिनिधियों को इस ऐतिहासिक कार्यक्रम, अंतरराष्ट्रीय नियमों तथा दिशा-निर्देशों के साथ-साथ अत्याधुनिक अंतरराष्ट्रीय अग्नि शोध सिद्धांतों पर परिचर्चा का अवसर दिया जाएगा ।
कोंकण रेलवे, चेन्नई मेट्रो रेल, राइट्स, सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय की प्रस्तुतियों के अलावा इस सम्मेलन की अध्यक्षता सेंटर फार इंफ्रास्ट्रक्चर एंड सस्टेनेबल इन इंडिया के सिविल इंजीनियरिंग प्रोफेसर तथा अध्यक्ष डा. टी. जी. सीताराम करेंगे । यह संस्था निर्माण प्रमुखों और भारत के वरिष्ठ सरकारी प्रतिनिधियों को एक विशेष प्लेटफार्म प्रदान करती है ताकि वे आजकल उद्योगों को प्रभावित करने वाले सुरंगीकरण तथा भूमिगत निर्माण मुद्दों पर चर्चा कर सकें और इनका समाधान निकाल सकें ।
आईक्यूपीसी के बारे में
पिछले 30 वषरें से आईक्यूपीसी ने व्यावाहारिक औद्योगिक समाधानों और वैश्विक स्तर की बेहतरीन प्रक्रिया के जरिये विश्व की प्रमुख कारपोरेट कंपनियों को उनकी व्यापारिक चुनौतियों से निपटने में मदद की है । इस प्रक्रिया में कंपनी ने गुणवत्ता तथा मूल्य के मामले में दुस्साहिक छवि बनाई है । विश्व की सर्वाधिक प्रगतिशील कंपनियों ने आईक्यूपीसी की अद्वितीय वैश्विक पहुंच से लाभ उठाया है जो स्थानीय तथा क्षेत्रीय प्रमुखों के साथ अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञता से जुड़े हुए हैं ।
दिल्ली में 12 से 14 दिसंबर 2011 के दौरान आयोजित होने वाले टनेल्स एंड अंडरग्राउंड कंस्ट्रक्शन इंडिया सम्मेलन के बारे में जानकारी के लिए देखें

http://www.tunnelsindia.com


 या संपर्क करें : केतिया एंड्रेजेव, वरिष्ठ विपणन प्रबंधक, आईक्यूपीसी से केतिया डाट एंड्रेजेव एट आईक्यूपीसी डाट काम या 971 4 446 2748

 स्रोत : आईक्यूपीसी मिडिल ईस्ट पीआरन्यूजवायर- एशियानेट : रंजन रंजन पीडब्ल्यूआर1 09270841 दि